देश में रोजगार नहीं योग्य उम्मीदवारों की कमी: श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार

लोकसभा चुनाव परिणाम आने के बाद जारी एक रिपोर्ट में बताया गया था कि पिछले 45 वर्षों में बेरोजगारी की दर सबसे अधिक है.

देश में बेरोज़गारी बढ़ रही है? इस तरह के सवाल आजकल बेहद आम हो गया है. केंद्र सरकार ने स्पष्ट कर दिया है कि इस तरह की कोई बात नहीं है, योग्य व्यक्तियों के लिए सभी सेक्टर्स में नौकरी है. केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ने अपने संसदीय क्षेत्र बरेली में मीडिया से बात करते हुए कहा कि उत्तर भारत में अच्छी शिक्षा प्राप्त युवाओं की कमी है.

उन्होंने कहा, ‘देश में रोजगार की कमी नहीं है. हमारे उत्तर भारत में जो रिक्रूटमेंट करने आते हैं, वो इस बात का सवाल करते हैं कि जिस पद के लिए हम रख रहे हैं, उसकी क्वॉलिटी का व्यक्ति हमें कम मिलता है.’

उन्होंने कहा कि अखबार में रोजगार को लेकर जो दावे किए जा रहे हैं वह सही नहीं हैं क्योंकि रोजगार से संबंधित मंत्रालय वह ख़ुद ही देख रहे हैं और असलियत की जानकारी उन्हें है. राज्य मंत्री ने कहा, ‘आजकल अखबारों में रोजगार की बात आ रही है. हम इसी मंत्रालय को देखने का काम कर रहे हैं और रोज ही इसको मॉनिटर करने का काम करते हैं. जो बात हमारी समझ में आई है, मैं इतना ही कह सकता हूं कि देश के अंदर रोजगार की कमी नहीं है.’

केंद्रीय मंत्री ने दावा किया है कि वे स्वयं भी केंद्र सरकार की तरफ से रोजगार देने के कई प्रयास कर रहे हैं. गंगवार ने कहा, रोजगार बहुत है और रोजगार दफ्तरों के अलावा हमारा मंत्रालय भी अलग से इसे मॉनिटर कर रहा है. मैं इतना ही कह सकता हूं कि रोजगार की समस्या नहीं है.’

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव परिणाम आने के बाद जारी एक रिपोर्ट में बताया गया था कि पिछले 45 वर्षों में बेरोजगारी की दर सबसे अधिक है.