Methanol Blended Fuel, 20 रुपये के मिक्सचर से 5000 करोड़ बचा सकती है सरकार, पेट्रोल भी ₹10 होगा सस्ता!
Methanol Blended Fuel, 20 रुपये के मिक्सचर से 5000 करोड़ बचा सकती है सरकार, पेट्रोल भी ₹10 होगा सस्ता!

20 रुपये के मिक्सचर से 5000 करोड़ बचा सकती है सरकार, पेट्रोल भी ₹10 होगा सस्ता!

मोदी सरकार देशभर में मिथेनॉल ब्लेंडेड फ्यूल लाने की तैयारी में है. ट्रायल के तौर पर पुणे में 15 फीसदी मिथेनॉल मिले हुए पेट्रोल से गाड़ियां चलाई गईं.
Methanol Blended Fuel, 20 रुपये के मिक्सचर से 5000 करोड़ बचा सकती है सरकार, पेट्रोल भी ₹10 होगा सस्ता!

केंद्र सरकार एक बड़े प्रोजेक्ट पर काम कर रही है, यदि मोदी सरकार का ये प्रोजेक्ट सफल रहा तो पेट्रोल के दाम में बड़ी गिरावट आएगी. सरकार देशभर में मिथेनॉल ब्लेंडेड फ्यूल (Methanol Blended Fuel) लाने की तैयारी में है. इसके लिए बकायदा सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान को खत लिखा है. गडकरी ने धर्मेंद्र प्रधान को देशभर में मिथेनॉल ब्लेंडेड फ्यूल (Methanol Blended Fuel) उपलब्ध कराने को कहा है.

अभी पेट्रोल में इथेनॉल (Ethanol) मिलाया जाता है. इथेनॉल (Ethanol), मिथेनॉल (Methanol) से बहुत महंगा है. इथेनॉल (Ethanol) की कीमत करीब 40 रुपये प्रति लीटर है, जबकि मिथेनॉल 20 रुपये लीटर में आती है. मोदी सरकार इस दिशा में तेजी से काम कर रही है. जिससे लगता है कि बहुत जल्द मिथेनॉल (Methanol) मिला हुआ पेट्रोल हर जगह मिलने लगेगी. इससे पेट्रोल के दाम में 10 रुपए की गिरावट आ सकती है. भारत चीन, मेक्सिको और मिडिल ईस्ट से मिथेनॉल (Methanol) का इंपोर्ट किया जा सकता है.

इकोनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक नीति आयोग के सदस्य वीके सारस्वत ने बताया कि M15 पर 65,000 किलोमीटर का ट्रायल रन पूरा कर लिया है. नीति आयोग ने बताया है कि फ्यूल में 15 फीसदी मिथेन ब्लेंड करने पर 2030 तक 100 अरब डॉलर की बचत हो जाएगी.

मेथेनॉल ब्लेंडेड ईंधन (Methanol Blended Fuel) के बाजार में आ जाने से कच्चे तेल का आयात भी कम हो सकेगा, जिससे भारत को हर साल करीब 5 हजार करोड़ रुपये बचाने में म​दद मिलेगी.

ट्रायल के तौर पर पुणे में 15 फीसदी मिथेनॉल (Methanol) मिले हुए पेट्रोल से गाड़ियां चलाई गईं. खबरों के मुताबिक पुणे में मारुति और हुंडई गाड़ियों में मिथेनॉल (Methanol) मिला पेट्रोल डालकर ट्रायल रन किया गया. सरकार इस दिशा में जितनी तेजी से काम कर रही है उससे लगता है कि जल्द ही देशभर के पेट्रोल पंपों पर मिथेनॉल मिला हुआ पेट्रोल मिलने लगेगा.

क्या होता है एथेनॉल व मेथेनॉल

इथेनॉल (Ethanol) एक इको फ्रेंडली ईंधन है जिसका निर्माण गन्ने के रस से किया जाता है. इथेनॉल का निर्माण चीनी मिलों में किया जाता है. यह नॉन-टॉक्सिक, बायोडिग्रेडेबल साथ ही संभालने में आसान, स्टोर और ट्रांसपोर्ट के लिए सुरक्षित है. यह एक ऑक्सीजनयुक्त ईंधन है जिसमें 35 फीसदी ऑक्सीजन होती है. इथेनॉल के इस्तेमाल से नाइट्रोजन ऑक्साइड उत्सर्जन में कमी आती है.

यही वजह है कि सरकार पेट्रोल के स्थान पर इथेनॉल के इस्तेमाल को बढ़ावा दे रही है. सरकार ने पेट्रोल में भी 10 फीसदी इथेनॉल (Ethanol) मिश्रण की मंजूरी दे दी है. इस समय इथेनॉल की कीमत 52.43 रुपये प्रति लीटर है जो पेट्रोल से करीब 20 रुपये सस्ती है. आपको बात दें कि मेथेनॉल कोयले से बनता है.

ये भी पढ़ें-

मुख्यमंत्री रघुबर दास भी नहीं बचा सके सीट, बीजेपी के हाथ से निकला पांचवां राज्य

झारखंड: पीएम मोदी ने जीत पर हेमंत सोरेन को दी बधाई, जानें बीजेपी कार्यकर्ताओं से क्या कहा…

Methanol Blended Fuel, 20 रुपये के मिक्सचर से 5000 करोड़ बचा सकती है सरकार, पेट्रोल भी ₹10 होगा सस्ता!
Methanol Blended Fuel, 20 रुपये के मिक्सचर से 5000 करोड़ बचा सकती है सरकार, पेट्रोल भी ₹10 होगा सस्ता!

Related Posts

Methanol Blended Fuel, 20 रुपये के मिक्सचर से 5000 करोड़ बचा सकती है सरकार, पेट्रोल भी ₹10 होगा सस्ता!
Methanol Blended Fuel, 20 रुपये के मिक्सचर से 5000 करोड़ बचा सकती है सरकार, पेट्रोल भी ₹10 होगा सस्ता!