जब शीला दीक्षित को चलती DTC बस में मिला था प्रपोज़ल, जानें क्या था रिएक्शन

विनोद उनका पहला और आखिरी प्यार थे. शीला दीक्षित ने अपनी किताब में लिखा है कि उनके क्लास के 20 साथियों में से विनोद सबसे अलग थे.

दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस की वरिष्ठ नेता शीला दीक्षित के निधन से देश में शोक की लहर है. शीला दीक्षित ने साल 1998 से लेकर 2013 तक दिल्ली की गद्दी पर राज किया था. दिल्ली की पूर्व सीएम ने अपनी ऑटोबायोग्राफी भी लिखी थी, जिसका नाम है ‘Citizen Delhi: My Times, My Life.’ इस किताब में शीला दीक्षित के जीवन की उन बातों का जिक्र किया गया है, जिनके बारे में शायद ही कुछ लोग जानते हैं.

इस किताब में शीला दीक्षित ने अपनी प्रेम कहानी के बारे में भी लिखा है कि कैसे उन्होंने अपने प्यार को अपना जीवनसाथी बनाने के लिए दो साल तक इंतजार किया था. उन्होंने लिखा है कि जब वे प्राचीन भारतीय इतिहास की पढ़ाई कर रही थीं, तब उनकी मुलाकात विनोद से हुई थी. विनोद उनका पहला और आखिरी प्यार थे. शीला दीक्षित ने अपनी किताब में लिखा है कि उनके क्लास के 20 साथियों में से विनोद सबसे अलग थे.

शीला दीक्षित ने अपनी किताब में लिखा, ऐसा नहीं था कि पहली नजर में ही प्यार हो गया था. वह कुछ अलग सा था. मेरा फर्स्ट इम्प्रेशन भी अलग सा था. पांच फीट साढ़े ग्यारह इंच लंबे विनोद सुंदर, सुडौल, साथियों के बीच बेहद लोकप्रिय और अच्छे क्रिकेटर थे. शीला के विपरीत, पांच फुट और साढ़े ग्यारह इंच लंबे विनोद अपने साथियों के बीच काफी सुंदर, मशहूर और अच्छे क्रिकेटर थे. संयोग से, दोनों ने अपने दोस्तों के लव डिस्पयूट को सुलझाने में मदद की और इस दौरान विनोद और शीला एक दूसरे के करीब आ गए.

Ex Cm Sheila Dikshit Love Story, जब शीला दीक्षित को चलती DTC बस में मिला था प्रपोज़ल, जानें क्या था रिएक्शन

शीला दीक्षित ने लिखा कि कई बार ऐसा हुआ कि वे विनोद से बात नहीं करती थीं क्योंकि वे बहुत इंट्रोवर्ट थीं और विनोद काफी ओपन माइंडिड और चीयरफुल थे. अपने दिल की बात कहने के लिए पूरा दिन शीला दीक्षित ने विनोद के साथ डीटीसी बस का सफर किया था.

पूर्व सीएम ने अपनी किताब में बताया कि कैसे विनोद ने डीटीसी बस में उन्हें प्रपोज़ किया था.

शीला दीक्षित ने लिखा कि जब विनोद फाइनल ईयर की परीक्षा देने वाले थे उससे एक दिन पहले चांदनी चौक पर 10 नंबर की बस में विनोद ने शीला से कहा था कि वे अपनी मां से कहने जा रहे हैं कि उन्होंने अपने लिए लड़की पसंद कर ली है, जिससे वे शादी करेंगे. इसके बाद शीला ने उनसे पूछा क्या तुमने उस लड़की से इस बारे में पूछा है? तब विनोद ने कहा कि, लेकिन वह लड़की बस में मेरे सामने वाली सीट पर बैठी है और वह लड़की शीला दीक्षित थीं.

शीला दीक्षित ने तुरंत बाद इस बारे में अपने परिवार को नहीं बताया था. उन्होंने कुछ दिनों बाद विनोद के बारे में परिवार को बताया, लेकिन वे दोनों की शादी को लेकर आशंकित थे.

 

ये भी पढ़ें-    दलेर मेहंदी के साथ शीला दीक्षित ने मिलाए थे सुर से सुर, फुल एनर्जी के साथ गाया वंदे मातरम्

DDLJ थी शीला दीक्षित की फेवरेट फिल्म, इतनी बार देखी कि घरवालों से मिल गई वॉर्निंग