Exclusive: आजम को मिले कड़ी सजा, संसद में गंदी बात कर दुख पहुंचाया: रमा देवी

सांसद रमा देवी ने आगे कहा, " आजम खान को सजा होनी चाहिए. संसद में ऐसे-ऐसे लोग बैठे हैं तो हम समझते हैं कि लोकसभा को शर्मिंदा ही करेंगे.

नई दिल्ली: लोकसभा में सपा सांसद आजम खान की अभद्र टिप्‍पणी पर कड़ी आपत्ति जताते हुए रमा देवी ने उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है. गुरुवार को जब रमा देवी स्‍पीकर की कुर्सी पर बैठी थीं तब आजम खान ने अभद्र टिप्‍पणी की थी. टीवी9 भारतवर्ष से एक्‍सक्‍लूसिव बातचीत में रमा देवी ने कहा कि अगर आजम खान उस वक्त माफी मांग लेता तो मैं समझती की उसके दिल में गंदगी नहीं है.

टीवी9 भारतवर्ष से बातचीत करते हुए रमा देवी ने कहा कि ये केवल एक महिला का अपमान नहीं बल्कि पूरे देश की महिलाओं का अपमान किया है. आप कैसे सोच सकते हैं कि जिस कुर्सी में मैं बैठी हुईं हूं, केवल रमा देवी नहीं बैठी थी बल्कि भारत की एक महिला बैठी हुई थी और भारत की महिला पूरी शर्मसार हुई है. जिस तरह से आजम खान ने लय बांधा था ये बर्दाश्त करने वाला नहीं था. फिर भी एक महिला के नाते मैं उसको माफी मांगने के लिए बोले थे अगर वो उस वक्त माफी मांग लेता तो मैं समझती की उसके दिल में गंदगी नहीं है. लेकिन जब उस समय उसने माफी नहीं मांगी तो मैं अध्यक्ष जी से और सभी संसद सदस्यों से ये मांग उठी है कि अब उनको माफी नहीं देना है और कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है. ताकि आगे से कोई भी ऐसा करने से बचे.

सांसद रमा देवी ने आगे कहा, ” आजम खान को सजा होनी चाहिए. संसद में ऐसे-ऐसे लोग बैठे हैं तो हम समझते हैं कि लोकसभा को शर्मिंदा ही करेंगे. कोई आम जनता के लिए आए हैं ये अपने लिए आए हैं. शौक मौज और आराम के लिए आए हैं. इनकी बोली में जो लय था वो शौक,मौज और आराम वाला था. आजम खान जो अब तक विधानसभा में करते आए हैं वो ही स्थिति अब यहां हुई तो ये बर्दाश्त करने वाली नहीं है और ये जो सरकार है वो सब कुछ देखती है.

आजम खान के बचाव कर रहे नेताओं के बारे में रमा देवी ने कहा, ” ऐसी दलीलें वो देंगे क्योंकि वो गंदी बात को ऐसे बोलकर किसी मर्माहत किए. मैं ऐसी प्रतिष्ठित कुर्सी पर बैठी हुई थी इसलिए मैंने बर्दाश्त कर लिया. मैं कुर्सी से उठी हूं और अध्यक्ष जी उस कुर्सी को संभालने के लिए आए हैं लेकिन एक-एक बात आज भी मेरे कान में गूंज रही है कि जिस तरह से भाषा कोई सवाल करने लगे मैं तो कही कि जो कार्रवाई का हिस्सा है वो निकाल दीजिए और ये स्थिति को वो बखान करने लगे उसमें इनकी शान इनका रुतबा शामिल था. ये सब कोई देख रहा था. ये रुतबा यहां नहीं चलेगा. यहां जो भी सांसद बनकर आया है. पता नहीं कौन इनको सांसद बनाकर भेज दिया है आज वो रो रहा होगा कि ऐसे आदमी को कैसे सांसद बना दिया. जब ये भारत माता को डायन कर सकते हैं

रमा देवी ने आगे बोलती हैं कि आजम खान को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए और ये सांसद की कुर्सी पर बैठने लायक नहीं है. मैं ये चाहती हूं कि सांसद की कुर्सी खाली करें. कोई अच्छा इंसान यहां पर आए जो गरीब दुखिया की बात करें. उन्होंने कहा कि हम सोमवार को देखेंगे. क्योंकि मुझे बोलने का काम किया है और मैं मर्माहत हुई हूं, एक महिला का सम्मान ही सब कुछ होता है. वो मुझे अपमानित करने का काम किया है. मैं अध्यक्ष जी से बात करूंगी और उस समय की बात अलग होगी कि किस परिस्थिति में माफी मांगना चाहिए. अगर माफी उसी समय मांग लेता तब मैं सहृदय माफ कर देती. लेकिन उसके दिल में छल कपट था.