चुनाव जीतने के लिए नेतन्याहू ने दिया भड़काऊ भाषण, फेसबुक ने कर दिया ब्लॉक

उनके सोशल मीडिया अकाउंट पर एक संदेश प्रसारित हुआ कि अरब के नेता ‘‘हम सबको मिटा देना चाहते हैं’’ जिसके बाद उनका चैटबॉट बंद कर दिया गया.

नई दिल्ली: सोशल मीडिया साइट फेसबुक ने इजरायल के पीएम बेंजामिन नेतन्याहू के एक चैटबॉट पर रोक लगा दी है. कंपनी ने उनके खिलाफ ये एक्शन नफरत भरे भाषण पर नीतियों का उल्लंघन करने पर लिया है.

उनके सोशल मीडिया अकाउंट पर एक संदेश प्रसारित हुआ कि अरब के नेता ‘‘हम सबको मिटा देना चाहते हैं’’ जिसके बाद उनका चैटबॉट बंद कर दिया गया. फेसबुक के एक प्रवक्ता ने टाइम्स ऑफ इजराइल से कहा कि बॉट को अस्थायी रूप से 24 घंटे के लिए निलंबित किया गया है और कंपनी की नीतियों का भविष्य में किसी भी तरह से उल्लंघन के लिए भी कार्रवाई की जाएगी.

प्रवक्ता ने कहा, ‘‘लिकुड के प्रचार बॉट की गतिविधियों की सावधानीपूर्वक समीक्षा करने के बाद हमने पाया कि हमारे नफरत भरे भाषण को लेकर तय की गई नीति का उल्लंघन हुआ है. हमने पाया कि बॉट ऐसे वक्त में प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल कर रहा है जब लोगों से संपर्क की अनुमति होती है. परिणामस्वरूप हमने बॉट को अस्थायी रूप से 24 घंटे के लिए बंद कर दिया है. अगर फिर कोई उल्लंघन हुआ तो हम उपयुक्त कार्रवाई जारी रखेंगे.’’

इजरायल में 17 सितंबर को आम चुनाव होने वाले हैं. चुनाव से पहले दबा के प्रचार-प्रसार हो रहे हैं. पीएम बेंजामिन नेतन्याहू भी प्रचार में लगे हुए हैं. पीएम के फेसबुक अकाउंट से एक मैसेज ब्रॉडकास्ट हुआ, जिसमें कहा गया कि अरब के नेता हम सबको मिटा देना चाहते हैं. बच्चे-महिलाएं और पुरुष को. इस मैसेज के ब्रॉडकास्ट होने के बाद विरोध होना शुरू हुआ और फेसबुक ने उस चैटबॉट को बंद कर दिया.