फर्जी CBI अधिकारी बन किया मणिपुर मुख्यमंत्री के भाई को किडनैप, पुलिस ने चंद घंटों में छुड़ाया

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि टोंगब्रम लुखोई सिंह की पत्नी की शिकायत के बाद, पुलिस ने कार्रवाई शुरू की और शुक्रवार शाम दोनों को बचा लिया और पांचों आरोपियों को कोलकाता के बेनियापुकुर से गिरफ्तार कर लिया.

पुलिस प्रतीकात्मक तस्वीर
पुलिस प्रतीकात्मक तस्वीर

पुलिस ने शनिवार को बताया कि CBI अधिकारी बनकर पांच लोग कोलकाता में मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह के भाई टोंगब्रम लुखोई सिंह के घर गए और उनका अपहरण कर लिया. हालांकि पुलिस ने उसे चंद घंटों के भीतर ही बचा लिया और पांच आरोपियों को गिरफ्तार भी कर लिया, जिनमें से दो मणिपुर के थे.

शुक्रवार को यह घटना तब हुई जब टॉय गन लेकर आरोपी टोंगब्रम लुखोई सिंह के न्यू टाउन में किराए के घर में घुस गए और उन्हें और उनके एक सहयोगी को अगवा कर लिया. पुलिस ने बताया, “बाद में उन्होंने टोंगब्रम लुखोई सिंह की पत्नी को फोन किया और 15 लाख रुपए की फिरौती मांगी.

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि टोंगब्रम लुखोई सिंह की पत्नी की शिकायत के बाद, पुलिस ने कार्रवाई शुरू की और शुक्रवार शाम दोनों को बचा लिया और पांचों आरोपियों को कोलकाता के बेनियापुकुर से गिरफ्तार कर लिया.

पांच आरोपियों में से दो मणिपुर के थे, दो कोलकाता के और एक पंजाब का था. पुलिस ने आरोपियों द्वारा कथित रूप से इस्तेमाल की गए दो वाहन और तीन टॉय गन जब्त कर लीं, इसके अलावा बेनियापुकुर में उनके ठिकाने पर छापे के दौरान 2 लाख रुपए बरामद किए.

पुलिस अधिकारी ने कहा, “प्रतीत होता है कि यह अपहरण पैसे के लिए हुआ था. आरोपी मणिपुर के किसी व्यक्ति की ओर से काम कर रहे थे, जिसने इस योजना को अंजाम दिया.” पांचों से पूछताछ की जा रही है.

अधिकारी ने बताया कि कोलकाता के दो अभियुक्तों का आपराधिक रिकॉर्ड है. उन्होंने कहा कि मणिपुर पुलिस को घटना के बारे में सूचित कर दिया गया है और उनसे जांच के लिए सहायता मांगी गई है.

ये भी पढ़ें: दूसरी शादी करने मंडप में बैठा था शख्स, पत्नी ने आकर कर दी पिटाई

Related Posts