फर्जी वैद्य पर महिलाओं ने बरसाए लात-घूंसे, इलाज के बहाने नाबालिग से दुष्कर्म का आरोप

तेलंगाना (Telangana) के निजामाबाद में महिलाओं ने एक फर्जी वैद्य की जमकर पिटाई कर दी. आरोप है कि उसने इलाज के नाम पर मानसिक रूप से बीमार (Mentally ill) एक नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म किया था

Nizambad

तेलंगाना (Telangana) में एक फर्जी वैद्य की महिलाओं ने जमकर पिटाई कर दी. पिटाई भी ऐसी कि आरोपी वैद्य बेसुध हो गया. इस फर्जी वैद्य पर इलाज के नाम पर दुष्कर्म का आरोप है. पूरा मामला तेलंगाना के निजामाबाद (Nizamabad) इलाके का है.

महिलाओं का आरोप है कि मानसिक रूप से बीमार 15 साल की एक नाबालिग लड़की को आरोपी ने ठीक करने का आश्वासन दिया था. इलाज के नाम पर उस नाबालिग के साथ दुष्कर्म किया. इतना ही नहीं आरोप है कि फर्जी वैद्य ने पीड़िता को डराया और धमकाया कि अगर उसने इस बारे में अपने माता-पिता को बताया तो वो उन्हें मार डालेगा. धमकी से डरकर नाबालिग ने अपने माता पिता को कुछ नहीं बताया.

यह भी पढ़ें : स्वामी चिन्मयानंद को सुप्रीम कोर्ट से झटका, नहीं मिलेगी रेप पीड़िता के बयान की कॉपी

हकीकत तब सामने आई जब नाबालिग के पेट में दर्द शुरू हुआ. इलाज के लिए जब उसे अस्पताल ले जाया गया तो असलियत सामने आई. डॉक्टर ने बताया कि वह प्रेग्नेंट है, जिसके बाद पूछताछ करने पर पूरी बात पता चली.

नाबालिग के माता-पिता समेत कई महिलाओं ने आरोपी फर्जी वैद्य पर थप्पड़, लात-घूंसे बरसाए और उसके कपड़े फाड़कर उसकी जमकर पिटाई की. पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

निजामाबाद की क्रूर घटना

बता दें कि इससे पहले सितंबर में तेलंगाना के निजामाबाद से एक बेहद क्रूर घटना सामने आई थी. एक व्यक्ति ने कोरोना के डर से अपनी मां को घर में नहीं घुसने दिया था. बुजुर्ग महिला कोरोना संक्रमण से ठीक होकर अस्पताल से डिस्चार्ज हो चुकी थी. 65 साल की बुजुर्ग महिला दो दिनों तक अपने घर के सामने खुले में जमीन पर लेटी रही क्योंकि उसका बेटा घर पर ताला लगाकर परिवार समेत बाहर चला गया था.

यह भी पढ़ें : राजस्थान: नाबालिग का अपहरण कर बनाया रेप का वीडियो, जांच में जुटी पुलिस

Related Posts