एक ही नाम के दो शवों के बदल जाने पर सरकारी अस्पताल में परिजनों का हंगामा, जांच के आदेश

कर्नूल शहर (Kurnool) के सरकारी अस्पताल में एक ही नाम के दो शवों के बदले जाने पर परिजनों ने हंगामा मचाया. अस्पताल के अधिकारियों से इतनी बड़ी गलती होने पर उंगलियां उठ रही हैं. इस पर जांच के आदेश दिए गए हैं.

आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) के कर्नूल जिले के सरकारी अस्पताल में एक ही नाम के दो शवों के बदल जाने से, अस्पताल के बाहर परिजन हंगामा कर रहे हैं.

दरअसल इसी महीने 6 तारीख को रामबाबू नामक एक व्यक्ति सांस लेने में दिक्कत होने की वजह से कर्नूल शहर (Kurnool) के सरकारी (Government Hospital) अस्पताल में भर्ती हुआ था. उसकी जांच करने के बाद पता चला कि वह कोरोना  (Coronavirus) से संक्रमित नहीं था, मगर ज्यादा तबियत बिगड़ने की वजह से उसकी मौत हो गई. शव को मुर्दागृह में रखा गया.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

इसी महीने के 11 तारीख को रामबाबू के ही नामपर दूसरा व्यक्ति अस्पताल में भर्ती हुआ था, जिसकी तबियत ज्यादा खराब थी, इलाजे के दौरान उसकी मौत हो गई. ये शख्स जांच में कोरोना से संक्रमित पाया गया. इस शव को भी मुर्दागृह में रख दिया गया. मगर जब इसके परिजन शव (Dead body) लेने आये उन्हें एक ही नाम होने की वजह से पहले वाले रामबाबू जो कोरोना से संक्रमित नहीं था, का शव सौंप दिया गया. उन लोगों ने शव को ले जाकर अंतिम संस्कार भी कर दिया.

जब दूसरे वाले रामबाबू के परिजन आये, उन्होंने देखा उनके रामबाबू का शव, जो कोरोना से संक्रमित नहीं था, मुर्दागृह (Mortuary ) में नहीं है, जो शव पड़ा था, वह कोरोना से संक्रमित था. जिसकी वजह से परिजन अस्पताल के बाहर आंदोलन करने लगे, अस्पताल के अधिकारियों से इतनी बड़ी गलती होने पर उंगलियां उठ रही हैं. इस पर जांच के आदेश दिए गए हैं.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

 

Related Posts