फरीदाबाद DCP विक्रम कपूर ने की आत्महत्या, मिला सुसाइड नोट- दो लोगों पर ब्लैकमेल करने का आरोप

मौके पर पहुंची पुलिस ने लाश को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है.

चंडीगढ़. फरीदाबाद में एनआईटी जोन के पुलिस उपायुक्त विक्रम कपूर (DCP Vikram Kapoor) ने कथित तौर पर सेक्टर 30 पुलिस लाइन के अपने सरकारी आवास पर खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली है. फरीदाबाद पुलिस के मुताबिक एक सुसाइड नोट मिला है जिसमे विक्रम कपूर ने एक इंस्पेक्टर अब्दुल सईद और एक अन्य शख्स पर ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया है. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

पीआरओ के मुताबिक डीसीपी ने सुबह 6 बजे के करीब अपनी सर्विस रिवाल्वर से गोली मारकर आत्महत्या की है. प्राप्त जानकारी के अनुसार सारा आला महकमा उनके निवास स्थान पर पहुंच चुका है. आत्महत्या के कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है.

विक्रम कपूर के साथ काम कर चुके रिटायर्ड अफसर और कुछ पड़ोसियों का कहना है कि वो खुशमिजाज इंसान थे, कभी किसी परेशानी का जिक्र उन्होंने नहीं किया. फिलहाल आत्महत्या के पीछे की वजह साफ नहीं है. विक्रम कपूर के दो बेटे है, एक बेटा और पत्नी के साथ वो यहीं रहते थे, अब तक किसी सुसाइड नोट मिलने की बात सामने नहीं आई है.

पुलिस ने घर से वो सर्विस रिवॉल्वर बरामद कर ली है जिससे विक्रम सिंह ने खुद को गोली मारी है. पुलिस परिवार और रिश्तेदारों से पूछताछ करेगी. जिसके बाद आत्महत्या की वजह साफ हो पाएगी.

डीसीपी के पीआरओ सूबे सिंह ने कहा कि, “बहुत दुख के साथ मैं आपको यह सूचित कर रहा हूं की हमारे डीसीपी एनआईटी श्री विक्रम कपूर ने आज अपने सरकारी आवास सेक्टर 30 पुलिस लाइन में सुबह करीब 6:00 बजे, सर्विस रिवाल्वर से गोली मारकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली है. स्वर्गीय श्री विक्रम कपूर की आत्महत्या के कारणों का जांच की जा रही है. आपको इस बारे में बाद में अपडेट किया जाएगा.”

विक्रम कपूर मूल रूप से कुरुक्षेत्र के रहने वाले हैं. 1983 में एएसआई के पद पर हरियाणा पुलिस में भर्ती हुए थे और लगातार मिलने वाले प्रमोशन से फिलहाल एनआईटी के डीसीपी के पद तक पहुंचे थे. आज सुबह घरवालो ने गोली चलने की आवाज सुनी तो देखा विक्रम कपूर के गोली लगी है और उन्होंने मौके पर ही दम तोड़ दिया है. मौके पर हरियाणा पुलिस के तमाम अफसरों ने आकर जांच शुरू की.

ये भी पढ़ें: डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने जिस इंजेक्शन को लेने से मना किया था, उसी ने ली थी उनकी जान

ये भी पढ़ें: अब पाक ने लिया झूठ का सहारा, फर्जी वीडियो पोस्ट कर ट्रंप से लगाई गुहार, J&K पुलिस ने दिया जवाब