फारूक़ अब्दुल्ला को हिरासत में लिए जाने पर ओवैसी ने उठाए ये सवाल

एआईएमआईएम सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने कश्मीर के हालात पर सवाल उठाते हुए कहा, 'पूर्व सीएम गुलाम नबी आजाद और जम्मू-कश्मीर जाने के लिए सुप्रीम कोर्ट से इजाजत क्यों लेनी पड़ रही है?

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने पर और दो केंद्र शासित प्रदेश में बांटने के फैसले के बाद से फारूख अब्दुल्ला नजरबंद चल रहे थे लेकिन अब उनको पब्लिक सेफ्टी ऐक्ट (PSA) के तहत हिरासत में लिया गया है. अब्दुल्ला को हिरासत पर लिए जाने के बाद एआईएमआईएम सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने कश्मीर के हालात पर सवाल उठाए हैं.

एआईएमआईएम सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने कश्मीर के हालात पर सवाल उठाते हुए कहा, ‘पूर्व सीएम गुलाम नबी आजाद और जम्मू-कश्मीर जाने के लिए सुप्रीम कोर्ट से इजाजत क्यों लेनी पड़ रही है? इससे पता चला है कि घाटी में हालात सामान्य नहीं है. अगर सरकार दावा करती है कि वहां सब कुछ ठीक है तो राजनीति क्यों नहीं हो सकती?’


गौरतलब है कि फारूक अब्दुल्ला को जिस जगह रखा जाएगा उसे एक आदेश के जरिए अस्थायी जेल घोषित कर दिया गया है. पीएसए के तहत किसी भी शख्स को बिना किसी मुकदमे के दो साल तक हिरासत में रखा जा सकता है. उधर, एआईएमआईएम सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने कश्मीर के हालात पर सवाल उठाए हैं.

इस कानून को फारूक अब्दुल्ला के पिता शेख अब्दुल्ला के कार्यकाल के दौरान पहली बार लागू किया गया था. फारूक अब्दुल्ला श्रीनगर से लोकसभा सांसद भी हैं और 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 के अधिकतर प्रावधान हटाए जाने और दो केंद्र शासित प्रदेश में बांटने के फैसले के बाद से अब्दुल्ला नजरबंद हैं.