पुरी से टकराने को है फोनी तूफान, तटीय इलाकों में स्कूल-कॉलेज बंद, 103 ट्रेन भी हुई रद्द

मौसम विभाग ने राज्य में येलो वॉर्निंग जारी कर रखी है. वहीं नेशनल डिजास्टर रिस्पांस फोर्स के अनुसार, 47 राहत और बचाव कार्य टीमों को तैनात किया गया है.

पुरी: सुपर साइक्लोन के बाद सबसे खतरनाक माना जाने वाला फोनी तूफान बहुत तेजी के साथ ओडिशा क पुरी की तरफ बढ़ रहा है. इसके ओडिशा के पुरी से 3 मई को करीब 200 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से टकराने की आशंका जताई जा रही है.

यह पुरी के बहुत करीब पहुंच चुका है, जिसका असर भी देखने को मिल रहा है. तटीय इलाकों में तेज हवाएं चल रही है और बारिश होने के भी आसार हैं. वहीं फोनी तूफान के कारण होने वाले जानमाल के खतरे को गंभीरता से देखते हुए ईस्ट कोस्टर्न रेलवे ने अभी तक 103 ट्रेन रद्द कर दी हैं. इतना ही नहीं स्कूल-कॉलेज भी बंद कर दिए गए हैं.

मौसम विभाग ने राज्य में येलो वॉर्निंग जारी कर रखी है. वहीं नेशनल डिजास्टर रिस्पांस फोर्स के अनुसार, 47 राहत और बचाव कार्य टीमों को तैनात किया गया है. जहां-जहां राहत और बचाव कार्य टीमों को लगाया गया है, उनमें आंध्र प्रदेश, तमिलनाडू, केरल, ओडिशा, और पश्चिम बंगाल के बहुत ज्यादा संवेदनशील तटीय इलाके शामिल हैं.

वहीं इसके अलावा अन्य 24 टीमों को तूफान को लेकर सतर्क रहने के निर्देश दिए गए हैं.

डॉक्टर्स की छुट्टियां रद्द

इस तूफान के मद्देनजर ओडिशा में डॉक्टरों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं. इतना ही नहीं जो डॉक्टर और हॉस्पिटल स्टाफ छुट्टी पर है उन्हें जल्द से जल्द वापस आने को कहा गया है.

4 राज्यों का राहत राशि जारी

फोनी तूफान से होने वाले भारी नुकसान के आशंका को देखते हुए केंद्र सरकार ने पहले 1,086 करोड़ रुपए का एडवांस में फंड जारी कर दिया है. केंद्र सरकार नहीं चाहती कि आपातकालीन स्थिति में कोई भी राज्य किसी भी संकट से गुजरे.

उत्तर प्रदेश में भी दिख सकता है असर

वहीं तूफान को लेकर मौसम विभान ने अंदेशा जताया है कि उत्तर प्रदेश में तेज बारिश हो सकती है. तेज हवाओं के साथ राज्य में 2 मई से 4 मई तक तेज बारिश होने के आसार हैं.

 

ये भी पढ़ें-    समझें क्या है फोनी का मतलब? रफ्तार से लेकर तूफानों के नाम रखने तक की Detailed Report

  तितली से भी भयंकर है फैनी तूफान, केंद्र ने जारी किया 1086 करोड़ का अग्रिम फंड, नेवी हाई अलर्ट

फोनी तूफान का खतरा! ओडिशा में चुनाव आयोग ने हटाई आचार संहिता