सैन्य कमांडर लेवल की 5वें राउंड की बातचीत में भारत का सख्त संदेश- टकराव वाली सभी जगहों से पीछे हटे चीन

सैन्य कमांडर लेवल की बैठक करीब 11 घंटे तक चली, जिसमें भारत (India) ने चीन (China) को टकराव वाली सभी जगहों से पीछे हटने को कहा है. बातचीत में पैंगोंग एरिया में 5 मई से पहले वाली स्थिति बहाली को लेकर चर्चा हुई.
Fifth round of talks between India-China, सैन्य कमांडर लेवल की 5वें राउंड की बातचीत में भारत का सख्त संदेश- टकराव वाली सभी जगहों से पीछे हटे चीन

शीर्ष भारतीय और चीनी सैन्य कमांडरों ने रविवार को पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के साथ विवाद को लेकर 5वें राउंड की बातचीत की. दोनों देशों के सैन्य कमांडर्स के बीच हुई बातचीत में पैंगोंग में फिंगर एरिया में दोनों सेनाओं के बीच गंभीर मतभेदों के कारणों को लेकर बातचीत हुई है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

बैठक करीब 11 घंटे तक चली जिसमें भारत ने चीन को टकराव वाली सभी जगहों से पीछे हटने को कहा है. बातचीत में पैंगोंग एरिया में 5 मई से पहले वाली स्थिति बहाली को लेकर चर्चा हुई.

बातचीत से परिचित सूत्रों के मुताबिक चीन ने पैंगोंग त्सो फिंगर एरिया (Pangong Tso) से सैनिकों को पीछे हटाने को लेकर अनिच्छुक नजर आया. अधिकारियों ने कहा है कि फिंगर एरिया जो कि सिरिजाप रेंज के बाहर 8 चट्टानों का एक समूह है डिसइंगेजमेंट प्रक्रिया का सबसे कठिन हिस्सा बनकर उभर रहा है.

कोर कमांडर-रैंक के अधिकारियों के बीच पांचवें दौर की बातचीत एलएसी (LAC) के चीनी एरिया में मोल्दो में लगभग 11.30 बजे शुरू हुई. रविवार को हुई इस सैन्य कमांडर बैठक में भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व लेह 14 कोर कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल हरिंदर सिंह ने किया. वहीं चीन की तरफ से दक्षिणी शिनजियांग सैन्य क्षेत्र के कमांडर, मेजर जनरल लियू लिन बैठक में मौजूद थे. इससे पहले14 जुलाई को कोर कमांडर स्तर की बातचीत हुई थी.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

Related Posts