रेप के आरोपी पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति पर एक और मामला दर्ज, पीड़िता की मां ने दी थी शिकायत

पीड़िता ने आरोप लगाया था कि साल 2014 में गायत्री के आवास पर गैंगरेप हुआ था.

लखनऊ: रेप का आरोप झेल रहे यूपी के पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति पर एक और मामला दर्ज किया गया है. रेप पीड़िता की मां ने दिल्ली के हौज खास थाने में धमकी देने और मारपीट का केस दर्ज करवाया है.

यूपी के पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति पर रेप पीड़िता की मां ने एक और मामला दर्ज करवाया है. पीड़िता की मां की शिकायत पर कोर्ट ने एफआईआर के आदेश दिए थे. कोर्ट के आदेश के बाद दिल्ली के हौज ख़ास थाने में धमकी देने और मारपीट का केस दर्ज किया गया है.

पूर्व डीजीपी जाविद अहमद और डीएसपी अमिता सिंह पर भी आरोप
पीड़िता की मां ने यूपी के पूर्व डीजीपी जाविद अहमद और डीएसपी अमिता सिंह पर भी आरोप लगाए है. पीड़िता की मां की शिकायत में इन दोनों अधिकारियों पर एनकाउंटर की धमकी देकर गवाहों को प्रभावित करने का आरोप लगाया गया है. बताया जा रहा है कि ये घटना दो मार्च 2017 की है. उस वक्त रेप पीड़िता एम्स में भर्ती थी. हालांकि एफआईआर में किसी का नाम नहीं लिया गया है.

पीड़िता का आरोप
गौरतलब है कि यूपी के पूर्व मंत्री पर चित्रकूट की एक पीड़िता की तहरीर पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर मामला दर्ज किया गया था. पीड़िता ने आरोप लगाया था कि गायत्री के सरकारी आवास पर नशीला पदार्थ चाय में मिलाकर बेहोश करके उसके साथ रेप किया गया था. पीड़िता का आरोप है कि गायत्री और उसके साथियों ने तीन साल तक उसके साथ गैंगरेप किया, उसकी अश्लील तस्वीरें लीं और उसे तीन साल तक लगातार धमकी देते रहे. महिला ने आवाज तब उठाई जब आरोपियों ने उसकी बेटी पर नजर डालने की कोशिश की.

ये था मामला
बताते चलें कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद यूपी पुलिस ने गायत्री और उनके सहयोगी अशोक तिवारी, पिंटू सिंह, विकास शर्मा, चंद्रपाल, रूपेश और आशीष शुक्ला के खिलाफ आईपीसी की धारा 376, 376डी, 511, 504, 506 और पॉक्सो एक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज किया था. पीड़िता ने आरोप लगाया था कि साल 2014 में गायत्री के आवास पर गैंगरेप हुआ था. पीड़िता ने अपनी नाबालिग बेटी के साथ रेप का भी आरोप लगाया था. इसके बाद पीड़िता ने एम्स में इलाज के दौरान धमकी मिलने की शिकायत भी की थी.