CPM पोलिंग एजेंट के घर में लगाई आग, चुनाव के बाद भी जारी बंगाल में हिंसा

लोकसभा चुनाव में चार चरणों के मतदान हो चुके हैं. सबसे ज्यादा हिंसा की खबरें पश्चिम बंगाल से आ रही है. आए दिन बीजेपी, टीएमसी और सीपीएम कार्यकर्ताओं के बीच हिंसा की खबरें आती रहती हैं.

कोलकाता: पश्चिम बंगाल से हिंसा की खबरें आना बंद नहीं हो रही हैं. चौथे चरण के मतदान वाले दिन आसनसोल संसदीय क्षेत्र में बीजेपी और टीएमसी कार्यकर्ताओं में झड़प हुई थी. अब खबर आ रही हैं बीरभूम से जहां एक सीपीएम समर्थक के घर में आग लगा दी गई.

लोकसभा चुनाव में चार चरणों के मतदान हो चुके हैं. सबसे ज्यादा हिंसा की खबरें पश्चिम बंगाल से आ रही है. आए दिन बीजेपी, टीएमसी और सीपीएम कार्यकर्ताओं के बीच हिंसा की खबरें आती रहती हैं. चुनाव के बाद एक और संघर्ष की खबर आई है पश्चिम बंगाल के बीरभूम से.

ये भी पढ़ें- ममता के बेलगाम गुंडों से उथलपुथल बंगाल, क्या लौटा बिहार सा जंगलराज?

यह घटना फ्यूकुंग की इलमबाजार थाने के अंतर्गत आने वाले पाईकुणी गांव की है. यहां कुछ अज्ञात लोगों ने सीपीएम समर्थक की घर में आग लगा दी. बताया जा रहा है कि जिस शख्स के घर आग लगाई गई है वो घर से दुकान आ गया था. उसी वक्त उसके घर में आग लगाई. काफी देर तक घटनास्थल से पुलिस नदारद रही.

सूत्रों के मुताबिक टीएमसी के समर्थकों ने सीपीएम कार्यकर्ता के घर पर हमला किया है. ये लोग आसपास के गांव से आसपास के ही बताए जा रहे हैं. सूत्रों से ये भी जानकारी मिली है कि जिस शख्स के घर आगजनी की गई वो सीपीएम का पोलिंग एजेंट था. इसीलिए उसको निशाना बनाया गया. इसका नाम सेक खिलाफत बताया जा रहा है.