जामिया गोलीकांड की कहानी, चश्मदीद की जुबानी…कुछ मिनटों के लिए सहम गए थे लोग

ये मार्च जैसे ही शुरू हुआ वैसे एक शख्स वहां आया और हाथ में देसी पिस्तौल लेकर धमकी देने लगा. इस पूरी घटना के चश्मदीद छात्रों ने उन खौफनाक पलों को याद करते हुए कहा कि वो शख्स पूरी तरह से आपा खो बैठा था.
firing in jamia, जामिया गोलीकांड की कहानी, चश्मदीद की जुबानी…कुछ मिनटों के लिए सहम गए थे लोग

नई दिल्ली: महात्मा गांधी की पुण्यतिथि के मौके पर दिल्ली के जामिया यूनिवर्सिटी से राजघाट तक के लिए एक मार्च का आयोजन किया जाना था. लेकिन ये मार्च जैसे ही शुरू हुआ वैसे एक शख्स वहां आया और हाथ में देसी पिस्तौल लेकर धमकी देने लगा. इस पूरी घटना के चश्मदीद छात्रों ने उन खौफनाक पलों को याद करते हुए कहा कि वो शख्स पूरी तरह से आपा खो बैठा था.

एक टीवी न्यूज चैनल से बातचीत करते वक्त कुछ छात्रों ने बताया कि मार्च जामिया यूनिवर्सिटी से राजघाट के लिए रवाना हो गया था. तभी एक शख्स (आरोपी गोपाल) वहां आता है और जोर-जोर से चिल्लाने लगता है. वहां पर वो गोल्डन कलर की पिस्टल निकालता है और चारों ओर घुमाने लगता है. कभी वो हम लोगों की तरफ पिस्तौल तानता तो कभी हवा पर लहराता. उन्होंने बताया कि आरोपी शख्स रैली की तरफ बढ़ा और चिल्लाते हुए कह रहा था आओ मैं तुम्हें आजादी देता हूं.

कैमरे पर एक छात्रा ने बताया कि जब वो शख्स हमारी तरफ बढ़ रहा था तो हमने से एक छात्र शादाब उससे बार-बार अनुरोध कर रहा था कि वो पिस्तौल फेंक दे. हम लोगों ने शादाब से कहा कि वो उसको समझाए जैसे ही शादाब उसके पास गया तो उसने गोली चला दी. इस फायरिंग में शादाब घायल हो गया.

घायल शख्स शादाब को अस्पताल में भर्ती करा दिया है. गोली चलाने से पहले आरोपी शख्स ने हवा में बंदूक लहराई. वो ये कहता हुआ सुनाई दिया कि हिंदुस्तान जिंदाबाद, दिल्ली पुलिस जिंदाबाद, आओ मैं तुम्हें आजादी दिलाता हूं. आरोपी शख्स के हाथ में गोल्डन रंग का कट्टा था.

ये घटना जामिया यूनिवर्सिटी और सुखदेव विहार मेट्रो स्टेशन के पास की है. घटना स्थल के पास ही होली फैमली अस्पताल और फोर्टिस इस्कॉर्ट अस्पताल है. मौका-ए-वारदात पर मौजूद चश्मदीद ने बताया कि आरोपी शख्स रैली की तरफ आ रहा है. वह चिल्ला रहा था और कह रहा था था आओ मैं तुम्हें आजादी देता हूं. आरोपी शख्स को न्यूफ्रेंड्स कॉलोनी थाने में रखा गया है. जामिया इलाके में बैरीकेड लगा दिया गया है. बड़ी संख्या में पुलिस बस और सीआरपीएफ की टीम तैनात हैं. तीन मेट्रो स्टेशन बंद कर दिया गया है.

Related Posts