AAP के काफिले पर अटैक में एक मौत, पुलिस ने कहा- विधायक नहीं थे निशाना, पुरानी रंजिश में हुआ हमला

नरेश यादव अपनी ओपन कार में बैठकर मंदिर से वापस अपने घर लौट रहे थे. अशोक और हरेंद्र दोनों कार में पीछे बैठे थे और नरेश यादव ड्राइवर सीट के बगल वाली सीट पर थे. इसी दौरान गोली चली और हरेंद्र और अशोक को गोली लग गई, जिसमें अशोक की मौत हो गई.

  • Mohit Om
  • Publish Date - 9:00 am, Wed, 12 February 20

दिल्ली चुनाव के नतीजे आने के बादे देर रात महरौली विधायक नरेश यादव के काफिले पर कुछ लोगों ने हमला बोल दिया. हमलावरों की तरफ से की गई फायरिंग में आम आदमी पार्टी के दो कार्यकर्ताओं को गोली लगी, जिनमें से अशोक मान नाम के शख्स की मौत हो गई है. वहीं घायल कार्यकर्ता हरेंद्र को फोर्टिस हॉस्पिटल वसंतकुंज में भर्ती किया गया.

पुलिस ने क्या कहा?

दिल्ली पुलिस ने साफ किया है कि इस मामले में विधायक को निशाना नहीं बनाया गया था. हमलावर ने गाड़ी के बिल्कुल पास आकर अशोक मान को ही टारगेट किया है. अशोक मान और हमलावर के परिवार के बीच मे पुरानी रंजिश है. अशोक के भतीजे हरेंद्र( जो घायल है वो हरेंद्र नहीं) को चश्मदीद बनाकर इस मामले में FIR दर्ज की है. हरेंद्र ने तीन हमलावरों के नाम बताए हैं, जिसमें कालू, और देव दो हैं.

पुलिस के मुताबिक कालू, और देव दोनों सगे भाई हैं. इन्होंने नवंबर 2019 में अशोक मां के खिलाफ वसंत कुंज थाने में मामला दर्ज करवाया था. जिसमें अशोक की मां के खिलाफ आरोप लगाया था कि उसके परिवार पर अशोक और उसके साथियों ने फायरिंग करवाई थी. फिलहाल पुलिस अभी हमलावरों और मृतक दोनों के क्रिमिनल रिकॉर्ड खंगाल रही है.

विधायक नरेश यादव बोले- 4 राउंड फायर किए गए

हमला होने के बाद आप विधायक नरेश यादव ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि यह घटना वास्तव में दुर्भाग्यपूर्ण है. मुझे हमले के पीछे का कारण नहीं पता है लेकिन यह अचानक हुआ. करीब 4 राउंड फायर किए गए. जिस गाड़ी में मैं था, उस पर हमला हुआ. मुझे यकीन है कि अगर पुलिस ने सही तरीके से जांच की तो हमलावरों की पहचान हो जाएगी.

अशोक और हरेंद्र किशनगढ़ गांव के रहने वाले बताए जा रहे हैं. पुलिस का कहना है कि मृतक अशोक ने कुछ दिन पहले किसी पर गोली चलाई थी, तब से ही वह फरार था. मालूम हो कि आम आदमी पार्टी के विधायक नरेश यादव ने महरौली विधानसभा सीट पर बीजेपी की कुसुम खत्री को 18161 वोट से हराकर जीत हासिल की है.

नरेश यादव के काफिले पर हुई गोलीबारी को लेकर आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता संजय सिंह ने दिल्ली की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाया है. उन्होंने ट्वीट कर बताया कि नरेश मंदिर से लौट रहे थे, तभी उनपर गोलीबारी हुई. ये है दिल्ली में कानून का राज.

ये भी पढ़ें: दिल्ली के चुनावी नतीजे राहत देते हैं ‘राह’ नहीं दिखाते : योगेंद्र यादव