संसद सत्र के पहले दिन इन सांसदों ने ली शपथ

पीएम मोदी ने कहा कि विपक्ष नंबर की चिंता छोड़ दे. सबका साथ सबका विकास में अद्भुत विश्वास है.

नई दिल्ली: 17वीं लोकसभा का पहला बजट सत्र आज यानी सोमवार से शुरू हो रहा है. इस दौरान संसद में केंद्रीय बजट पारित किया जाएगा. साथ ही तीन तलाक जैसे अन्य महत्वपूर्ण विधेयकों पर चर्चा हो सकती है.

बजट सत्र शुरू होने से एक दिन पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को संसद में पार्टियों के नेताओं को मतभेदों को परे रखकर दोनों सदनों के कामकाज को बाधित नहीं करने की अपील की. पीएम मोदी ने सभी राजनीतिक दलों से सदन को सुचारु रूप से चलाने में सरकार के साथ मिलकर काम करने का आग्रह किया.

  • साध्वी ने अपने नाम के आगे पिता की जगह कोई और नाम लिया जिसपर विपक्षी सांसदों ने आपत्ति जताई.
  • भोपाल से बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के शपथ ग्रहण के दौरान जमकर हंगामा हुआ.
  • कांग्रेस सांसद और कमलनाथ के बेटे नकुलनाथ ले सांसद के तौर पर शपथ ग्रहण की.
  • कांग्रेस अध्यक्ष और वायनाड संसदीय क्षेत्र से सांसद राहुल गांधी ने सांसद पद की शपथ ली. कांग्रेस सांसद थोड़ी देर से संसद पहुंचे थे.
  • फारूक अब्दुल्ला जम्मू कश्मीर के श्रीनगर से नेशनल कॉन्फ्रेंस के सांसद हैं. उन्होंने आज सांसद पद की शपथ ली.
  • केरल से कांग्रेस के सांसद कोडिकुन्निल सुरेश ने हिंदी में शपथ ली. इस ओर कई सासंदों का ध्यान गया.
  • भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व क्रिकेटर और बीजेपी नेता गौतम गंभीर ने सांसद पद की शपथ ली.
  • सपा नेता मुलायम सिंह यादव, अखिलेश यादव और आजम खान संसद पहुंचे हैं.

  • लोकसभा की कार्यवाही 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई है. बचे हुए सांसद इसके बाद शपथ लेंगे.
  • जर्नादन सिंह सिग्रीवाल बिहार के महाराजगंज से बीजेपी सांसद हैं. जनार्दन ने भोजपुरी में शपथ लेने की इच्छा जताई लेकिन लोकसभा महासचिव ने इसकी इजाजत नहीं दी. उन्होंने कहा कि यह भाषा संविधान की 8वीं अनुसूचि में शामिल नहीं है ऐसे में इस भाषा में शपथ नहीं दिलाई जा सकती.
  • बीजेपी सांसद बाबुल सुप्रियो और देबाश्री चौधरी ने भी सांसद पद की शपथ ली है. इस दौरान सदन में ‘जय श्री राम’ के नारे गूंजते रहे.
  • बीजेपी सांसद प्रताप चंद्र सारंगी ने संस्कृत में शपथ ग्रहण की.
  • अश्वनी कुमार चौबे, किरण रिजिजू, जितेंद्र सिंह, गिरिराज सिंह, प्रह्लाद जोशी, राव इंद्रजीत सिंह, प्रह्लाद सिंह पटेल, अर्जुन राम मेघनाल, कृष्णपाल गुर्जर, साध्वी निरंजन ज्योति, बाबुल सुप्रियो सांसद पद की शपथ ले चुके हैं.
  • केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, रमेश पोखरियाल समेत कई नेताओं ने सांसद के तौर पर शपथ ली.
  • डॉ. हर्षवर्धन ने संस्कृत में शपथ ली.
  • गृह मंत्री अमित शाह ने सासंद पद की शपथ ली.
  • रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सांसद पद की शपथ ली.

  • आज लोकसभा के 542 सांसद शपथ लेंगे.
  • डॉ. वीरेंद्र कुमार सांसदों को शपथ दिला रहे हैं.
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सांसद पद की शपथ ली.

  • लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही शुरू हो गई है.
  • प्रधानमंत्री ने कहा कि कि तर्क के साथ सरकार की आलोचना करना लोकतंत्र को बल देता है. इससे सदन में सकारात्मक नतीजे देखने को मिलेंगे.
  • पीएम मोदी ने कहा कि चुनाव के बाद नई लोकसभा के गठन के बाद आज प्रथम सत्र प्रारंभ हो रहा है. अनेक नए साथियों के परिचय का अवसर है, नए साथियों के साथ नया उमंग, उत्साह और सपने भी जुड़ते हैं.
  • पीएम मोदी ने कहा कि विपक्ष नंबर की चिंता छोड़ दे. सबका साथ सबका विकास में अद्भुत विश्वास है. हमारे लिए विपक्ष का हर शब्द मूल्यवान है. विपक्ष का ताकतवर होना जरूरी है.
  • पीएम मोदी ने संसद की कार्यवाही शुरू होने से पहले मीडिया को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि आजादी के बाद सबसे ज्यादा वोटिंग हुई है. लोकतंत्र में विपक्ष का सक्रिय होना जरूरी है.

  • वीरेंद्र कुमार खटिक ने प्रोटेम स्पीकर के रूप में शपथ ली. राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने उन्हें शपथ दिलवाई थी. पीएम मोदी समेत अन्य सीनियर नेता भी मौजूद रहे.
  • पीएम ने रविवार को नवनिर्वाचित सांसदों का स्वागत किया और आशा व्यक्त की कि संसद के कामकाज में नए उत्साह और ऊर्जा का संचार होगा. मोदी ने सभी नेताओं से आत्मनिरीक्षण करने का आग्रह किया कि क्या सांसद लोगों की आकांक्षाओं को उनके प्रतिनिधियों के रूप में पूरा करने में सक्षम हैं.
  • उन्होंने कहा, “हम जनता के लिए हैं, हम संसद के कामकाज को बाधित करके दिल नहीं जीत सकते. सभी दलों को राजनीतिक मतभेदों को अलग रखना चाहिए और देश की प्रगति की दिशा में अथक परिश्रम करना चाहिए.”
  • संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि बिना किसी व्यवधान और गतिरोध के संसद की सुचारु कार्यवाही को सुनिश्चित करने के लिए दलों में सर्वसम्मति है. यह उल्लेख करते हुए कि देश 2022 में अपनी स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ मनाएगा और इस वर्ष महात्मा गांधी की 150वीं वर्षगांठ होगी, जोशी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने सभी सांसदों से स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों द्वारा किए गए बलिदान को दिमाग में ध्यान रखते हुए अपने द्वारा किए जाने वाले बलिदान के बारे में सोचने का आग्रह किया.
  • जोशी ने कहा कि मोदी ने स्वतंत्र रूप से सरकार के साथ बातचीत करने और विचारों का आदान-प्रदान करने के लिए 19 जून को संसद में प्रतिनिधित्व के साथ सभी राजनीतिक दलों के अध्यक्षों को आमंत्रित किया है और 20 जून को दोनों सदनों के सांसदों को आमंत्रित किया है.
  • बजट सत्र में लोकसभा व राज्यसभा में क्रमश: 30 व 27 बैठकें 17 जून से 26 जुलाई के बीच होंगी. जोशी ने विवरण देते हुए कहा कि 17वीं लोकसभा का पहला सत्र 17 जून से शुरू होगा, जबकि राज्यसभा का 249वां सत्र 20 जून से शुरू होगा.
  • आगामी सत्र मुख्य रूप से शपथ ग्रहण, अध्यक्ष का चुनाव, राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव और 2019-20 के लिए केंद्रीय बजट से संबंधित वित्तीय कामकाज को समर्पित होगा. इसमें जरूरी विधायी व गैर विधायी कामकाज के संपादन के लिए समय दिया जाएगा.
  • जम्मू और कश्मीर में अनुच्छेद 356 के विस्तार की मांग वाले प्रस्ताव को भी दोनों सदनों में 2 जुलाई तक मंजूरी दिए जाने की आवश्यकता है. भारत का आर्थिक सर्वेक्षण 4 जुलाई, 2019 (गुरुवार) को संसद में पेश किया जाएगा. 2019-20 का केंद्रीय बजट 5 जुलाई, 2019 को लोकसभा में सुबह 11 बजे पेश किया जाएगा.
बजट सत्र शुरू होने से पहले नई दिल्ली में रविवार को सर्वदलीय बैठक हुई. (IANS Photo)
  • अंतर-सत्र अवधि के दौरान 10 अध्यादेशों की घोषणा हुई है. इनके स्थान पर संसद के अधिनियम पारित किए जाएंगे क्योंकि नए संसद-सत्र प्रारंभ होने के छह सप्ताहों यानी एक अगस्त, 2019 के बाद ये स्वत: समाप्त माने जाएंगे.
  • 16वीं लोकसभा के सत्रावसान होने से 46 विधेयकों की अवधि समाप्त हो गई जो विभिन्न चरणों में दोनों सदनों के समक्ष प्रस्तावित थे. इनमें से कुछ महत्वपूर्ण विधेयकों को पुन: संसद के पटल पर रखा जाएगा. सरकार ने अपने विधायी एजेंडे को आगे बढ़ाया, जबकि विपक्षी पार्टियों ने मुलाकात में अन्य मुद्दे उठाए. इसमें किसानों से जुड़ी समस्याएं व जल उपलब्धता शामिल है.
  • बैठक के बाद वरिष्ठ कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि पार्टी ने सरकार से किसानों के मुद्दों, सूखा व जल उपलब्धता व बेरोजगारी को रोकने के लिए तत्काल कदम उठाने पर ध्यान केंद्रित करने को कहा. उन्होंने कहा, “यह विचारधारा की जंग है और यह जारी रहेगी. कांग्रेस लोगों के लिए कार्य करेगी, चाहे वह सरकार में रहे या न रहे.”
  • सरकार के मीडिया पर दबाव बनाने के कदम की आलोचना करते हुए आजाद ने कहा कि उन्होंने अभिव्यक्ति की आजादी का मुद्दा उठाया है. तृणमूल की तरफ से सुदीप बंद्योपाध्याय व डेरेक ओ’ब्रायन ने चुनाव सुधारों का मुद्दा उठाया.
  • बैठक में केंद्रीय मंत्री अमित शाह, राजनाथ सिंह, थावर चंद गहलोत, अर्जुन राम मेघवाल व वी.मुरलीधरन के साथ अन्य नेताओं ने भाग लिया. बैठक में कांग्रेस के आनंद शर्मा व अधीर रंजन चौधरी, नेशनल कांफ्रेंस के फारूक अब्दुल्ला, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी नेता सुप्रिया सुले ने भाग लिया.

ये भी पढ़ें-

बेन स्टोक्स ने कहा- कोहली की वजह से मुझे डिलीट करना पड़ेगा अपना ट्विटर अकाउंट

IND vs PAK: विश्वकप में भारत ने पाकिस्तान को 89 रन से हराया

IND vs PAK: विश्व कप मुकाबलों में भारत ने पाकिस्तान पर दर्ज की 7वीं जीत

Related Posts