कश्मीर में बड़े एक्शन के बाद विदेशमंत्री जयशंकर की चीनी उपराष्ट्रपति से मुलाकात

कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान ने चीन का दरवाज़ा खटखटाया तो भारतीय विदेशमंत्री ने भी चीन का दौरा किया है.

विदेशमंत्री एस जयशंकर आजकल चीन में हैं. सोमवार को उनकी मुलाकात चीनी उप राष्ट्रपति वांग चिशान से हुई. जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान और चीन के बीच सुगबुगाहट तेज़ होने के बीच ये मुलाकात अहम है. भारत के कश्मीर में बड़े कदम के बाद पाकिस्तानी विदेशमंत्री शाह महमूद कुरैशी ने चीन का दौरा किया था. हाल फिलहाल पाकिस्तान ने भारत के साथ अपने हर तरह के संबंध तोड़ लिए हैं और वो इस मसले पर चीन का भी साथ चाह रहा है.

गौरतलब है कि कश्मीर के एक हिस्से को दशकों से चीन कब्ज़ाए बैठा है और एक हिस्से पर पाकिस्तान काबिज़ है.

एस जयशंकर चीन के तीन दिवसीय दौरे पर रविवार को पहुंचे थे. विदेशमंत्री का पद संभालने के बाद जयशंकर की ये पहली चीन यात्रा है. 1 जून 2009 से 1 दिसंबर 2013 तक जयशंकर ने चीन में बतौर भारतीय राजदूत काम किया है. वो चीन के अलावा अमेरिका, चेक गणराज्य और सिंगापुर में भी काम कर चुके हैं.