TV9 भारतवर्ष के सवाल पर बोले विदेश मंत्री- पूरी दुनिया देखेगी ह्यूस्टन इवेंट, भारत-अमेरिका संबंध होंगे और मजबूत

टीवी9 भारतवर्ष के सवाल पर विदेश मंत्री ने जवाब देते हुए कहा कि समाज और देश अपनी प्रतिष्ठा खुद बनाते हैं.

नई दिल्ली: केंद्रीय विदेश मंत्री एस जयशंकर (S Jaishankar) ने केंद्र सरकार के 100 दिन पूरे होने पर पहली बार अपने मंत्रालय के कामकाज का रिपोर्ट कार्ड जारी किया. इस दौरान टीवी9 भारतवर्ष ने विदेश मंत्री से ह्यूस्टन में मोदी और ट्रम्प के एक मंच पर आने पर सवाल किया. उनके सवाल पर एस जयशंकर ने कहा कि दोनों देशों के बीच रिश्ते काफी अच्छे चर रहे हैं.

टीवी9 भारतवर्ष के सवाल का जवाब देते हुए इस दौरान विदेश मंत्री ने कहा कि एक बात तो में यहां साफ कर दूं कि भारत और अमेरिका के रिश्ते एक लंबा सफर तय कर चुके हैं. आज आप हमारे रिश्तों को देखें, दोनों देशों के बीच हो रहे व्यापार समझौतों को देखें, राजनीतिक रिश्तों को देखें, सुरक्षा सहयोगों को देखें, ये पिछले 20 वर्षों के दौरान काफी ऊपर गए हैं. इन रिश्तों को मजबूत बनाने के लिए जैसे प्रयास भारत की तरफ से किए जा रहे हैं वैसे ही अमेरिका भी कर रहा है.

विदेश मंत्री ने जवाब देते हुए आगे कहा कि एक बात से मैं आप लोगों को आश्वस्त कर देते हूं की दोनों देशों के बीच संबंध काफी अच्छे चल रहे हैं. टीवी9 भारतवर्ष के सवाल पर विदेश मंत्री ने जवाब देते हुए कहा कि समाज और देश अपनी प्रतिष्ठा खुद बनाते हैं. विदेश मंत्री ने प्रधानमंत्री के हैराथ में दिए बयान का जिक्र करते हुए कहा कि पीएम ने कहा था कि इन्फोर्मेशन टेक्नोलॉजी (IT) और इंटरनेशनल टेररिज्म (IT) दोनों देशों ने अलग-अलग IT में अपनी प्रतिष्ठा बनाई है.

उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया ह्यूस्टन इवेंट को देखेगी और समझेगी की भारत अमेरिका के संबंध कितने मजबूत हैं और इस संबंध से दोनों ने क्या हासिल किया है. एक बात साफ है कि आप जम्मू और कश्मीर पर किसकी क्या सोच है इसकी चिंता न करें, कश्मीर पर हमारी सोच 1972 से ही साफ है.

भारत-अमेरिका संबंध (India-US relationship) काफी आगे बढ़ चुके हैं. उन्होंने कहा कि मैं आपको भरोसा दिलाता हूं कि दोनों देशों के बीच संबंध बहुत अच्छी स्थिति में है. विदेश मंत्री ने यह भी कहा कि रविवार को ह्यूस्टन में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ‘हाउडी, मोदी!’ कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) के साथ होंगे यह बड़े सम्मान की बात है.