लीबिया में फंसे 500 भारतीय, सुषमा ने कहा जल्द नहीं लौटे तो बचाना मुश्किल

लीबिया में बिगड़ते सुरक्षा हालात के मद्देनजर, भारत ने गुरुवार को अपने नागरिकों को अत्यधिक सावधानी बरतने और समुदाय के दूसरे लोगों के साथ संपर्क में रहने के लिए कहा है.
foreign-minister-sushma-swaraj-said-500-indians-to-leave-tripoli-libya, लीबिया में फंसे 500 भारतीय, सुषमा ने कहा जल्द नहीं लौटे तो बचाना मुश्किल

नई दिल्ली: 2011 में कर्नल मुआम्मार गद्दाफ़ी को सत्ता से हटाए जाने और फिर उनकी हत्या के बाद अस्थिरता से जूझ रहे लीबिया में नया संकट पैदा हो गया था. हाल फिलहाल में लीबिया में हो रहे इस सत्ता संघर्ष के चलते हालात और भी बदतर हो गए हैं. विदेश मंत्रालय की तरफ से जारी की गई एडवाइजरी में लीबिया में रह रहे भारतीयों को जल्द वापस लौटने के लिए कहा गया है.

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर कहा है, ‘भारतीयों को लीबिया से बाहर निकालने के लिए बड़े पैमाने पर अभियान चलाया जा रहा है और वहां की यात्रा पर बैन लगा दिया गया है, बावजूद इसके त्रिपोली में 500 से ज्यादा भारतीय फंसे हुए हैं.’

सुषमा स्वराज ने कहा, ‘त्रिपोली में हालात बड़ी तेजी से बिगड़ते जा रहे हैं. फिलहाल विमानों का अरेंजमेंट किया जा रहा है. तब तक सभी से अनुरोध है कि आप वहां फंसे अपने रिश्तेदारों और दोस्तों को जल्द से जल्द त्रिपोली छोड़ने को कहें. वरना बाद में हमारे लिए उन्हें वहां से निकाल पाना मुश्किल हो जाएगा.’

इस मामले को लेकर MEA के प्रवक्ता रवीश कुमार ने भी ट्वीट किया है.

बता दें कि लीबिया की राजधानी त्रिपोली में बड़ी संख्या में भारतीय काम करते हैं जिनकी सुरक्षा के लिए विदेश मंत्रालय ने एडवाइजरी की है. WHO की एक रिपोर्ट के अनुसार देश में चल रहे तनाव की वजह से अब तक 205 लोगों की मौत हो चुकी है. इसके अलावा दो हफ्ते की लड़ाई में अब तक 913 लोग गंभीर रूप से घायल भी हैं.

Related Posts