चीफ गेस्ट नहीं, आम यात्री बनकर करतारपुर उद्धघाटन में जाएंगे पूर्व पीएम मनमोहन सिंह: पाक मंत्री

पाकिस्तान के विदेश मंत्री महमूद कुरैशी ने शनिवार को पुष्टि की कि करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन 9 नवंबर को किया जाएगा.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 8 नवंबर को पाकिस्तान के करतारपुर साहिब से जुड़ने वाले डेरा बाबा नानक दरबार साहिब गुरुद्वारे की तरफ से कॉरिडोर का उद्धघाटन करेंगे. इसके बाद 9 नवंबर को पाकिस्तान अपनी तरफ से करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन करेगा.

पाकिस्तान के विदेश मंत्री महमूद कुरैशी ने शनिवार को पुष्टि की कि करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन 9 नवंबर को किया जाएगा. उन्होंने आगे कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पाकिस्तान सरकार द्वारा उनसे कॉरिडोर का उद्धघाटन किए जाने का अनुरोध करते हुए भेजे गए निमंत्रण का जवाब दिया है.

कुरैशी ने आगे कहा, “मनमोहन सिंह एक यात्री की तरह उद्धघाटन समारोह में हिस्सा लेंगे, न कि मुख्य अतिथि के तौर पर.” हालांकि पहले खबर आ रही थीं कि पूर्व प्रधानमंत्री ने पाकिस्तान का निमंत्रण स्वीकार कर लिया है. इन खबरों का बाद में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने खंडन करते हुए कहा था कि वह उद्धघाटन के लिए करतारपुर नहीं जाएंगे.

सर्वदलीय जत्थे का नेतृत्व करेंगे मनमोहन सिंह

इसके बाद यह साफ हो गया कि वह केवल करतारपुर के लिए पहले सर्वदलीय ‘जत्था’ का नेतृत्व करेंगे और गलियारे से होते हुए गुरुद्वारे में माथा टेकने के लिए जाएंगे. उन्होंने कहा, “मेरे करतारपुर कॉरिडोर उद्धघाटन के लिए पाकिस्तान जाने का कोई सवाल ही नहीं है और मुझे लगता है कि डॉ. मनमोहन सिंह भी नहीं जाएंगे.” पंजाब के सीएम ने यह भी साफ किया कि पाकिस्तान जाने और गलियारे के माध्यम से गुरुद्वारा जाने के बीच अंतर है.

एक आधिकारिक प्रवक्ता के मुताबिक, पूर्व पीएम ने करतारपुर कॉरिडोर के माध्यम से मुख्यमंत्री की अगुवाई में ‘जत्थे’ में शामिल होने के लिए पंजाब के सीएम के निमंत्रण को स्वीकार कर लिया था, जो सीमा पर ऐतिहासिक गुरुद्वारे में गुरू नानक देव जी की 550वीं जयंती के अवसर पर श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए था.

ये भी पढ़ें: आखिर मैरी कॉम ने अभिनव बिंद्रा से क्यों कहा- ‘बॉक्सिंग आपके मतलब की बात नहीं, दूर रहें’