चीनी पत्थरबाजों को रातभर जांबाजी से दिया जवाब- LAC Face-off पर पहली बार ITBP ने किया खुलासा

इस साल मई और जून में पूर्वी लद्दाख में चीनी सैनिकों के साथ झड़पों के दौरान साहस और वीरता दिखाने वाले ITBP के सैनिकों के नाम स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर वीरता पुरस्कारों के लिए भेजे गए

ITBP on India China face-off, चीनी पत्थरबाजों को रातभर जांबाजी से दिया जवाब- LAC Face-off पर पहली बार ITBP ने किया खुलासा

भारत-तिब्बत सीमा पुलिस बल (ITBP) ने पहली बार पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प के बारे में बयान दिया है. ITBP के मुताबिक उनके जवानों ने पूरी रात लड़ाई लड़ी और चीनी सेना के पत्थरबाजों को मुंहतोड़ जवाब दिया. उनका कहना है कि चीनी सैनिकों का पूर्वी लद्दाख इलाके में ITBP के जवानों ने बहादुरी से सामना किया.

इस साल मई और जून में पूर्वी लद्दाख में चीनी सैनिकों के साथ झड़पों के दौरान साहस और वीरता दिखाने वाले ITBP के सैनिकों के नाम स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर वीरता पुरस्कारों के लिए भेजे गए. इसी के साथ ITBP के डायरेक्टर जनरल एसएस देशवाल ने 294 जवानों को DG कमेंडेशन रोल्स और इनसिग्निया से सम्मानित किया गया.

मालूम हो कि पूरी रात लड़ाई करने के बाद भी ITBP के जवान चीनी सैनिकों की अपेक्षा काफी कम हताहत हुए और जांबाजी से चीनी सैनिकों की पत्थरबाजी का जवाब दिया. चीनी सैनिकों को मुंहतोड़ जवाब देने के साथ ही ITBP के जवान अपने जख्मी साथियों को भी सुरक्षित वापस लाए. ITBP द्वारा जारी बयान के मुताबिक जवानों ने अपनी जांबाजी के बूते पूर्वी लद्दाख इलाके में माहौल सामान्य बनाने में कामयाबी हासिल की.

Related Posts