निर्भया गैंगरेप के चारों आरोपियों को 1 फरवरी, सुबह 6 बजे दी जाएगी फांसी

जज सतीश अरोड़ा ने कहा कि यहां सभी दोषियों को दया याचिका दायर करने का समान अवसर दिया गया लेकिन एक के अलावा किसी ने दया याचिका दायर नहीं की. ये देरी करने का प्रयास है.

निर्भया गैंगरेप के चारो आरोपियों के खिलाफ नया डेथ वारंट जारी कर दिया है. जज सतीश अरोड़ा ने चारों दोषियों के खिलाफ एक फरवरी को सुबह 6 बजे फांसी दी जाएगी. सरकारी वकील ने कोर्ट को बताया कि मुकेश को बता दिया गया है कि उसकी दया याचिका खारिज हो चुकी है.

जज सतीश अरोड़ा ने कहा कि यहां सभी दोषियों को दया याचिका दायर करने का समान अवसर दिया गया लेकिन एक के अलावा किसी ने दया याचिका दायर नहीं की. ये देरी करने का प्रयास है.

तीन दोषियों के वकील एपी सिंह ने कहा कि हम कोई देरी करने की कोशिश नहीं कर रहें. हमें दस्तावेज ही नहीं उपलब्ध करवाए गए. मुकेश की वकील वृंदा ग्रोवर ने भी तिहाड़ जेल प्रशासन द्वारा दस्तावेज उपलब्ध नहीं करवाने का आरोप लगाया.

एपी सिंह ने कहा कि मेरी दो याचिका लंबित है, एक दिल्ली हाईकोर्ट में और दूसरी पवन के नाबालिग होने की सुप्रीम कोर्ट में. जज सतीश अरोड़ा ने निर्भया के दोषी मुकेश की दया याचिका खारिज होने के बाद तिहाड़ जेल प्रशासन की फ्रेश डेथ वारंट जारी करने की मांग पर कहा कि पवन गुप्ता की उम्र को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका लंबित है.