PMC बैंक के पूर्व चेयरमैन वरयाम सिंह गिरफ्तार, रियल एस्टेट समूह को गैरकानूनी तरीके से दिया था कर्ज

ईडी ने पीएमसी बैंक में हुए घोटाले के सिलसिले में एचडीआईएल के प्रमोटर्स के प्राइवेट जेट और कारों को सीज कर दिया है.
PMC Bank case, PMC बैंक के पूर्व चेयरमैन वरयाम सिंह गिरफ्तार, रियल एस्टेट समूह को गैरकानूनी तरीके से दिया था कर्ज

पंजाब एंड महाराष्ट्र कोऑपरेटिव (पीएमसी) बैंक में 4,355 करोड़ रुपये के घोटाले के सिलसिले में मुंबई पुलिस ने अब बैंक के पूर्व चेयरमैन वरयाम सिंह को हिरासत में लिया है. इससे पहले शुक्रवार को बैंक के पूर्व एमडी जॉय थॉमस को गिरफ्तार किया गया था. जॉय थॉमस को मुंबई की एक अदालत ने शनिवार को 17 अक्टूबर तक पुलिस हिरासत में रखे जाने की अनुमति दे दी.

मुंबई पुलिस के जॉइंट पुलिस कमिश्नर ने बताया, ‘मुंबई पुलिस ने पीएमसी बैंक के चेयरमैन वरयाम सिंह को हिरासत में लिया है और उन्हें आर्थिक अपराध शाखा ले जाया गया है. कुछ औपचारिकताओं के बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा.’

इससे पहले शुक्रवार को पुलिस ने जॉय थॉमस को पूछताछ के लिए आर्थिक अपराध शाखा के कार्यालय बुलाया था. पूछताछ के बाद उन्हें वहीं गिरफ्तार कर लिया गया. थॉमस ने कहा कि बैक के वसूली में फंसे कर्ज के लिए उन्हें बलि का बकरा बनाया जा रहा है.

पुलिस की ओर से अदालत से कहा गया कि थॉमस को पूछताछ के लिए हिरासत में रखने की जरूरत क्योंकि वह साजिश में शामिल थे. पुलिस ने कहा कि बैंक ने रियल एस्टेट का कारोबार करने वाले कंपनी समूह एचडीआईएल की इकाइयों को गैरकानूनी तरीके से कई तरह की ऋण सुविधाएं दीं.

इनमें से ज्यादातर मामलों में थॉमस खुद शामिल थे या उन्होंने दूसरों से करवाया.

गुरुवार को मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराधा शाखा ने निजी कंपनी समूह एचडीआईएल के निदेशक राकेश वधावन और उसके बेटे सारंग वधावन को इसी मामले में हिरासत में लिया था. बताया जा रहा है कि पीएमसी ने नियमों की अनदेखी कर अपने कर्ज का एक बड़ा हिस्सा भूमि और भवन निर्माण का कारोबार करने वाले एचडीआईएल समूह की कपंनियों को ही दिया था. बैंक का 73 प्रतिशत से अधिक कर्ज एनपीए हो चुका है.

उधर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने भी एचडीआईएल के प्रमोटर्स पर अपना शिकंजा कस दिया है. ईडी ने पीएमसी बैंक में हुए घोटाले के सिलसिले में एचडीआईएल के प्रमोटर्स के प्राइवेट जेट और कारों को सीज कर दिया है. इससे पहले शुक्रवार को एजेंसी ने इनके ठिकानों पर छापेमारी की थी.

Related Posts