बलबीर जाखड़ का अपने बेटे पर ही खुलासा- उम्मीदवारी को लेकर कभी हुई ही नहीं बात

आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार बलबीर सिंह जाखड़ के बेटे ने केजरीवाल पर 6 करोड़ लेकर टिकट देने का सनसनीखेज़ आरोप लगाया है, लेकिन अब उस बेटे का भी सच सामने आने लगा है.

दिल्ली में मतदान से एक दिन पहले पश्चिमी दिल्ली लोकसभा सीट से AAP प्रत्याशी बलबीर सिंह जाखड़ पर उनके ही बेटे ने हमला बोल दिया है. अब जाखड़ ने पलटवार करते हुए अपने बेटे के हर आरोप को खारिज करते हुए उसे राजनीति से प्रेरित बताया है.

बलबीर जाखड़ के बेटे उदय ने मीडिया के सामने बयान दिया था कि उसके पिता ने आम आदमी पार्टी को 6 करोड़ रुपए देकर टिकट हासिल किया है लेकिन जाखड़ ने सफाई पेश करने में देर नहीं लगाई. उन्होंने मीडिया के सामने पहले तो ऐसे आरोपों को खारिज किया और उसके बाद बताया कि अपनी उम्मीदवारी को लेकर बेटे से उनकी कभी चर्चा नहीं हुई. जाखड़ ने ये भी कहा कि वो अपने बेटे से कम ही बात करते हैं और उदय अपने जन्म के समय से मां के साथ ही घर पर रहता है, जिससे उनका तलाक 2009 में हो चुका. तलाक के बाद बेटे की कस्टडी उनकी पत्नी को दे दी गई थी. जाखड़ ने ये भी बताया कि उनके बेटा 5-6 महीने तक ही उनके साथ रहा था.

गौरतलब है कि उदय जाखड़ ने मीडिया के सामने कहा था कि – इस देश का नागरिक और एक बेटा होने के नाते मेरा फर्ज़ है कि मैं कुछ तथ्य सामने लाऊं. आम आदमी पार्टी से मेरा सवाल है कि वो इस बात का सबूत सामने लाए कि मेरे पिता कभी अन्ना आंदोलन या खुद पार्टी का हिस्सा कब रहे हैं? वो आम आदमी पार्टी के कभी हिस्सा नहीं रहे. उन्होंने तीन महीने पहले राजनीति ज्वाइन की. उन्होंने मुझे बताया कि 6 करोड़ रुपए में उन्हें आम आदमी पार्टी से टिकट मिल रहा है जो वो सीधा केजरीवाल और गोपाल राय को देंगे. ये पैसा सीधा केजरीवाल को दिया गया जिसके बाद उन्हें पश्चिमी दिल्ली से चुनाव लड़ने के लिए टिकट मिला. किसी नए नेता को टिकट मिल जाना हैरान करता है. मेरे पिता के पास मेरी शिक्षा पर खर्च करने के लिए पैसा नहीं था लेकिन अपने राजनीतिक स्वार्थों के लिए उनके पास पैसा है.

उदय जाखड़ इतने पर ही नहीं रुका. उसने ये भी कहा कि मेरे पिता ने पूर्व कांग्रेस नेता और 1984 के सिख दंगों के आरोपी सज्जन कुमार को जमानत दिलवाने की भी कोशिश की थी जिसके लिए वह मोटी रकम देने को तैयार थे.

12 जून को दिल्ली की सातों सीट पर मतदान होना है. बलबीर जाखड़ के सामने बीजेपी की तरफ से प्रवेश वर्मा, कांग्रेस की तरफ से महाबल मिश्रा मैदान में हैं.