हवाई यात्रा करने वाले मुसाफिरों के लिए खुशखबरी, उड़ान के दौरान भी कर सकेंगे इंटरनेट का इस्तेमाल

हवाई यात्रा के दौरान इंटरनेट के जरिए यात्री लैपटॉप, स्मार्टफोन, ई-रीडर, स्मार्टवॉच या टैबलेट चलाने का लुत्फ उठा सकते हैं. इतना ही नहीं पॉइंट ऑफ सेल मशीन का भी इस्तेमाल इंटरनेट के जरिए किया जा सकता है.
Internet Service For Air Passengers, हवाई यात्रा करने वाले मुसाफिरों के लिए खुशखबरी, उड़ान के दौरान भी कर सकेंगे इंटरनेट का इस्तेमाल

कई बार लोग हवाई यात्रा के दौरान काफी बोर हो जाते हैं. यह बोरियत उस समय ज्यादा बढ़ जाती है जब यात्रा का समय 2 घंटे से भी ज्यादा का होता है. ऐसे में लोगों को इंटरनेट की कमी काफी खलती है.

अब ऐसे यात्रियों के लिए एक बहुत बड़ी खुशखबरी है. हवाई यात्रा के दौरान यात्री अब इंटरनेट सर्विस का लाभ उठ सकेंगे. हालांकि यह सुविधा केवल घरेलू विमान में यात्रा करने वाले मुसाफिरों के लिए ही होगी.

जो यात्री हवाई यात्रा के दौरान इंटरनेट की सुविधा लेना चाहते हैं वो इसके लिए पायलट से संपर्क कर सकते हैं. अब यह पायलट के ऊपर है कि अगर वो चाहे तो यात्रियों को WiFi के जरिये इंटरनेट सर्विस प्रोवाइड करा सकता है.

हवाई यात्रा के दौरान इंटरनेट के जरिए यात्री लैपटॉप, स्मार्टफोन, ई-रीडर, स्मार्टवॉच या टैबलेट चलाने का लुत्फ उठा सकते हैं. इतना ही नहीं पॉइंट ऑफ सेल मशीन का भी इस्तेमाल इंटरनेट के जरिए किया जा सकता है. हालांकि पायलट उस समय इंटरनेट सर्विस बंद कर सकता है जब मौसम खराब हो या फिर विजिबिलिटी काफी कम हो.

सिविल एविएशन मिनिस्ट्री ने इसे लेकर एक नोटिफिकेशन जारी किया है. नोटिफिकेशन के तहत, सब रूल 1 के आधार पर पायलट इन कमांड इंटरनेट सर्विस यात्रियों को मुहैया करा सकता है. इसके साथ ही नोटिफिकेशन में यह भी कहा गया है कि सिर्फ विमानों के लैंड करने या रन वे पर उतरने तक यह सेवा यात्रियों को मुहैया नहीं कराई जाएगी.

Internet Service For Air Passengers, हवाई यात्रा करने वाले मुसाफिरों के लिए खुशखबरी, उड़ान के दौरान भी कर सकेंगे इंटरनेट का इस्तेमाल

Internet Service For Air Passengers, हवाई यात्रा करने वाले मुसाफिरों के लिए खुशखबरी, उड़ान के दौरान भी कर सकेंगे इंटरनेट का इस्तेमाल

 

 

ये भी पढ़ें-  होली से पहले फिर लौटेगी ठंड, मौसम विभाग का अनुमान- 4 से 8 मार्च के बीच हो सकती है मूसलाधार बारिश

Delhi Violence पर दाखिल हुईं PIL, CJI बोले- इस तरह के दबाव कोर्ट नहीं संभाल सकता

Related Posts