डूबती एयर इंडिया को बचाने का नया प्लान, 100% हिस्सेदारी बेचने को तैयार सरकार

एयर इंडिया को डूबने से बचाने के लिए सरकार ने नया प्लान तैयार किया है. अब सरकार विमान कंपनी की सौ फीसदी हिस्सेदारी बेचने को तैयार है.

घाटे में चल रही एयर इंडिया को बचाने की कवायद तेज़ हो चली है. सरकार ने भारी कर्ज़ में डूबी एयर इंडिया की सौ फीसदी हिस्सेदारी बेचकर कंपनी को उबारने की ठानी है. मंत्रियों का एक पैनल इस बाबत फैसला करेगा. निवेश एवं सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन (दीपम) के सचिव अतानु चक्रवर्ती ने यह जानकारी दी.

सचिव ने कहा, ‘सरकार का मानना है कि अगर निवेशक कंपनी की पूरी हिस्सेदारी खरीदना चाहते हैं तो ठीक है, लेकिन मैं इस बारे में तभी बताऊंगा, जब इसपर फैसला ले लिया जाएगा. मेरा व्यक्तिगत तौर पर मानना है कि मैं इसमें सरकार की तरफ से कोई अड़चन नहीं देखता हूं.’

air india, डूबती एयर इंडिया को बचाने का नया प्लान, 100% हिस्सेदारी बेचने को तैयार सरकार

वैसे आपको बता दें कि कंपनी बेचने के लिए सरकार पिछले साल सक्रिय तो हुई थी लेकिन फिर मामला होल्ड पर चला गया.  तब कहा गया कि कच्चे तेल की कीमतों में अस्थिरता की वजह से ऐसा किया गया.

air india, डूबती एयर इंडिया को बचाने का नया प्लान, 100% हिस्सेदारी बेचने को तैयार सरकार

नीति आयोग ने कंपनी की पूरी हिस्सेदारी बेचने का प्रस्ताव पहले भी रखा था लेकिन सरकार की तरफ से सहमति नहीं बन सकी. अब सरकार इसके लिए राज़ी दिख रही है. माना जा रहा है कि इस दिशा में काफी पेपरवर्क निपटा लिया गया है. ये भी उल्लेखनीय है कि एयर इंडिया में हिस्सेदारी बेचने की बात दोहराते हुए वित्तमंत्री ने कहा भी था कि उड्डयन क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश की ऊपरी सीमा की समीक्षा की जाएगी. फिलहाल ये 49%  है. अगर ये सीमा बढ़ाई गई तो देश में घाटे से जूझ रहा उड्डयन क्षेत्र शायद तेज़ी पकड सकेगा.