तिरुपति की बस टिकट पर हज और येरुशलम यात्रा का प्रचार, बीजेपी ने लगाया धर्म परिवर्तन का आरोप

तिरुपति से तिरुमाला की यात्रा में मिलने वाले टिकटों पर पीछे हज और येरुशलम की यात्रा का प्रचार देखकर तीर्थयात्री भड़क गए.

हैदराबाद: आंध्र प्रदेश सड़क परिवहन के टिकट की वजह से विवाद हो गया है. तिरुपति से तिरुमाला में स्थित मंदिर की यात्रा के बीच मिलने वाले इन टिकटों पर येरुशलम और हज यात्रा के सरकारी विज्ञापन छपे हुए हैं. बुधवार को यात्रियों ने रीजनल मैनेजर से इस बात की शिकायत की कि जो यात्री तिरुपति आ रहे हैं उनके टिकट पर नॉन-हिंदी तीर्थों का प्रचार किया जा रहा है.

ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर ने बताया कि उन तक शिकायत आई है, जिसकी जांच की जा रही है. ये प्रचार सरकार के अल्पसंख्यक विभाग द्वारा जारी किया गया है. आंध्र प्रदेश के मंत्री वेल्लमपल्ली श्रीनिवास ने इस पर सफाई देते हुए कहा कि ये टिकट पिछली तेलुगू देसम पार्टी की सरकार में छपे थे. ये टिकट नेल्लोर और कडापा की तरफ चलने थे, इधर कैसे आए इसकी जांच की जाएगी.

बीजेपी इन टिकटों की बिक्री से भड़की हुई है. आरोप लगाया है कि ऐसी हरकतों के जरिए राज्य सरकार धर्म परिवर्तन को बढ़ावा देना चाहती है. हिंदुओं के पवित्र शहर का ईसाईकरण किया जा रहा है. बीजेपी का कहना है कि जगन मोहन रेड्डी खुद हिंदू नहीं हैं और उन्होंने हिंदू परंपरा के अनुसार दीप जलाने से भी इंकार कर दिया था.