चाउमीन खाकर जल गया बच्‍चे का शरीर, फेफड़े फटे, 16 दिन तक वेंटिलेटर पर रखना पड़ा

डॉक्‍टर्स ने एक्‍सरे देखा तो पता चला कि बच्‍चे के दोनों फेफड़े फट चुके हैं.

नई दिल्‍ली: हरियाणा के यमुनानगर से एक चौंकाने वाली खबर है. यहां एक 3 साल के बच्‍चा चाउमीन खाने के बाद अस्‍पताल पहुंच गया. उसके दोनों फेफड़े फट गए. शरीर काला पड़ गया. डॉक्‍टरों ने बड़ी मुश्किल से उसकी जान बचाई. बच्‍चे की हालत इतनी खराब थी कि उसे 16 दिन वेंटिलेटर पर रखना पड़ा.

बच्‍चे के पिता मंसूर हसन ने बताया कि चाउमीन खाने के कुछ समय बाद उनके बेटे की हालत बिगड़ गई. 3 साल के उस्‍मान ने चाउमीन में पड़ने वाली चटनी अधिक मात्रा में खाई थी. इसके अलावा उसने बोतल से भी चटनी पी थी. फिर उसे सांस लेने में तकलीफ होने लगी. कई अस्‍पतालों के हाथ खड़े करने पर परिजन उसे गाबा अस्‍पताल लेकर आए. यहां आईसीयू में उस्‍मान का इलाज शुरू हुआ.

खतरनाक है एसिड का इस्‍तेमाल

स्‍थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, जब डॉक्‍टर्स ने एक्‍सरे देखा तो पता चला कि उस्‍मान के दोनों फेफड़े फट चुके हैं. ऑपरेशन के बाद चेस्‍ट ट्यूब डाली गई. इस दौरान बच्‍चे को एक बार कार्डियक अरेस्‍ट भी आया. अब बच्‍चे की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है.

डॉक्‍टर्स के मुताबिक, चाउमीन में स्‍वाद की खातिर खतरनाक एसिड का इस्‍तेमाल नुकसान पहुंचाता है. उन्‍होंने कहा कि इससे न सिर्फ फेफड़े डैमेज होते हैं, बल्कि लिवर और किडनी खराब होने का भी खतरा रहता है.

ये भी पढ़ें

तीन दिन में 3 मासूमों ने जान दे दी, हमारे बच्‍चों को ये क्‍या हो गया

गर्मी से बेहाल थे कुपोषित बच्‍चे, कलेक्‍टर ने ऑफिस से AC निकलवा कर अस्‍पताल में लगवा दिए