देश में कोरोनावायरस ने नहीं बदला रूप, संडे संवाद में बोले स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन

डॉ हर्षवर्धन (Harsh Vardhan) ने कहा कि सुबह की चाय का आनंद अखबार के साथ उठाया जा सकता है. अब तक वैज्ञानिक शोधों में यह बात साबित नहीं हो पाई है कि अखबार के जरिए कोरोना का संक्रमण फैल सकता है.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 3:26 pm, Sun, 18 October 20

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन (Union Health Minister Harsh Vardhan) ने कहा है कि देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) ने अबतक अपना रूप नहीं बदला (म्युटेशन) है. स्वास्थ्य मंत्री ने रविवार को इस बात का आश्वासन दिया कि भारत में अबतक कोरोनावायरस का म्युटेशन नहीं मिला है. संडे संवाद (Sunday Samvaad) के छठवें एपिसोड में स्वास्थ्य मंत्री ने सवालों का जवाब देते हुए यह बात कही.

हर्षवर्धन ने कहा कि सुबह की चाय का आनंद अखबार के साथ उठाया जा सकता है. अब तक वैज्ञानिक शोधों में यह बात साबित नहीं हो पाई है कि अखबार के जरिए कोरोना का संक्रमण फैल सकता है. उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि कोरोना महामारी के बीच भी अखबार पढ़ना पूरी तरह से सुरक्षित है.

नई दिल्ली: वरिष्ठ नागरिकों के लिए खास पहल, मदद करने सीधे घर आएंगे मनोचिकित्सक-डॉक्टर…

‘नाक से दी जाने वाली वैक्सीन का ट्रायल जल्द’

डॉ हर्षवर्धन ने इस बात का भी जिक्र किया कि फिलहाल नाक से दी जाने वाली किसी भी कोविड-19 वैक्सीन का ट्रायल देश में नहीं चल रहा है. लेकिन आने वाले दिनों में सीरम इंडिया और भारत बायोटेक इनका ट्रायल शुरू कर सकती हैं. अभी ट्रायल के लिए नियामक मंजूरी मिलने का इंतजार किया जा रहा है.

‘तीसरे चरण के ट्रायल में हजारों लोग शामिल’

उन्होंने बताया कि कोरोना वैक्सीन के तीसरे चरण का ट्रायलों हजारों लोगों पर जारी है. इस ट्रायल में 30 हजार से लेकर 40 हजार के आसपास लोगों ने भाग लिया है. ऐसा भी हो सकता है कि ट्रायल के लिए किसी खास शहर, अस्पताल या कुछ लोगों को चुना जाए लेकिन फिलहाल तीसरे चरण का ट्रायल बड़े पैमाने पर किया जा रहा है.

‘सावधान रहकर मनाएं नवरात्रि’

स्वास्थ्य मंत्री ने रविवार को कहा, “मैं आपसे आग्रह करता हूं कि कोविड-19 को हराने में अपनी भूमिका को ध्यान में रखकर सावधानी के साथ इस साल की नवरात्रि मनाएं. प्रार्थना में सिर झुकाते वक्त हम उन लाखों कोरोना वॉरियर्स के बलिदान का भी ध्यान रखें जिन्होंने इस लड़ाई में अपनी जान दे दी और जो अब भी आपको इस खतरनाक बीमार से बचाने के लिए लड़ रहे हैं.”

कोरोना वैक्सीन Tracker: रूस के टीके के दूसरे चरण का ट्रायल भारत में जल्द होगा शुरू!