हरियाणा कांग्रेस का इंटरनल सर्वे लीक, पार्टी को मिलेगी इतनी सीटें; रणदीप सुरजेवाला पहले ही फ्लॉप

जींद विधानसभा सीट पर जनवरी महीने में ही चुनाव हुआ था लेकिन कांग्रेस का ट्रंप कार्ड यानी कि रणदीप सुरजेवाला तीसरे नंबर पर रहे.
Haryana congress Internal survey leak, हरियाणा कांग्रेस का इंटरनल सर्वे लीक, पार्टी को मिलेगी इतनी सीटें; रणदीप सुरजेवाला पहले ही फ्लॉप

हरियाणा में इस बार बीजेपी (भारतीय जनता पार्टी) के लिए एकतरफा चुनाव माना जा रहा है. कांग्रेस के राज्यसभा सांसद ग़ुलाम नबी आज़ाद, अहमद पटेल और हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा का एक नया वीडियो लीक हुआ है. सोशल साइट्स पर दावा किया जा रहा है कि इस वीडियो में तीनों नेता कांग्रेस के इंटरनल सर्वे पर चर्चा कर रहे हैं. कहा जा रहा है कि इंटरनल सर्वे में कांग्रेस को हरियाणा में 14 सीटें मिल रहीं है.

अहमद पटेल बार-बार कह रहे हैं कि सिर्फ 14? पार्टी गयी कहां? वहीं पूर्व सीएम हुड्डा कह रहे हैं कि मुझे क्या मिला?

वहीं एक और वीडियो भी लीक हुआ है जिसमें शुरुआती बतचीत है. सोशल साइट्स पर दावा किया गया है कि इसमें अहमद पटेल दावा कर रहे हैं कि चार सीटें रणदीप सुरजेवाला के खाते में चली गई, छह सीटें पूर्व कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर के नाम पर दी गई है. वहीं चार अन्य किसी नेता के नाम (शायद कुमारी शैलजा) पर दी गई है. बाकी की 14 सीट भूपेंद्र सिंह हुड्डा के नाम पर दी जाएगी. जिसके बाद पूर्व सीएम कह रहे हैं कि मुझे क्या मिला?

बता दें कि वीडियो में आवाज़ साफ़ नहीं है. यह पूरी कहानी सोशल साइट्स पर किए जा रहे दावे को ध्यान में रखकर बताई गई है.

हरियाणा की राजनीति में कांग्रेस के लिए रणदीप सुरजेवाला का बड़ा नाम है. सुरजेवाला कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता भी हैं लेकिन क्या वाकई में हरियाणा की राजनीति में उनका क़द इतना बड़ा है?

जींद विधानसभा सीट पर जनवरी महीने में ही चुनाव हुआ था लेकिन कांग्रेस का ट्रंप कार्ड यानी कि रणदीप सुरजेवाला हार गए. रणदीप सुरजेवाला जाट समुदाय से आते हैं और कांग्रेस को उम्मीद थी कि इस बार इतिहास बदलेगा.

दरअसल, साल 1972 के बाद कोई जाट समुदाय का प्रत्याशी जींद में चुनाव नहीं जीत पाया है.

रणदीप सुरजेवाला जींद विधानसभा उपचुनाव में तीसरे नंबर पर रहे. जींद विधानसभा चुनाव में भाजपा उम्मीदवार कृष्ण लाल मिड्ढा ने 12248 वोटों से जीत दर्ज की है. वहीं जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के दिग्विजय सिंह चौटाला दूसरे नंबर पर रहे. यानी बीजेपी नंबर एक, जेजेपी नंबर दो और कांग्रेस नबंर तीन पार्टी रही.

वहीं पूर्व हरियाणा कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर भी पार्टी से नाराज़ हैं. तंवर ने आरोप लगाया कि सोहना विधानसभा सीट पांच करोड़ में बेची गई है. अशोक तंवर ने बिना नाम लिए भूपेंद्र हुड्डा पर आरोप लगाते हुए कहा, ”वो बीजेपी के लोगों के साथ मिले हुए हैं. कई सीटें ऐसी हैं जहां वो इंडियन नेशनल लोक दल और बीजेपी के कहने पर टिकट दे रहे हैं जिन मेरे साथियों ने पिछले पांच साल सड़क पर संघर्ष किया उनकी राजनीतिक हत्या करने का प्रयास हो रहा है.”

अशोक तंवर ने समर्थकों को संबोधित करते हुए कहा कि यह राजनीतिक हत्या का प्रयास हो रहा है. सोनिया गांधी ने हमेशा न्याय किया है और मुझे उम्मीद है कि हमें भी न्याय मिलेगा.

बता दें कि कांग्रेस ने आगामी हरियाणा विधानसभा चुनाव के लिए अपने 84 उम्मीदवारों के नामों की सूची बुधवार रात को जारी कर दी है. पार्टी ने केवल एक मौजूदा विधायक को छोड़कर बाकी सब को टिकट दिया है.

कांग्रेस की केन्द्रीय चुनाव समिति ने पूर्व मुख्यमंत्री भूपेन्द्र सिंह हुड्डा को गढ़ी सांपला किलोई सीट और कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला को कैथल सीट से चुनाव लड़ाने का फ़ैसला किया है. हरियाणा विधानसभा में फ़िलहाल कांग्रेस के 17 विधायक हैं, जिनमें से पार्टी ने केवल रेणुका विश्नोई को उम्मीदवार नहीं बनाया है, जो हांसी से विधायक हैं.

दिवंगत पूर्व मुख्यमंत्री भजन लाल के दोनों बेटों कुलदीप विश्नोई और चंद्र मोहन को कांग्रेस ने अपना उम्मीदवार बनाया है. विश्नोई हिसार की आदमपुर सीट से वहीं उनके भाई और पूर्व उप मुख्यमंत्री चंद्र मोहन पंचकुला से चुनाव लडेंगे.

पूर्व मुख्यमंत्री बंसी लाल के बेटे रणवीर महिंद्रा बधरा से और पुत्रवधू किरण चौधरी तोशाम से किस्मत आजमाएंगी. पूर्व विधानसभा अध्यक्ष कुलदीप शर्मा को पार्टी ने गनौर सीट से प्रत्याशी घोषित किया है. इस सूची में हरियाणा कांग्रेस की अध्यक्ष कुमारी शैलजा और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर के नाम नहीं हैं.

ज़ाहिर है हरियाणा में 21 अक्टूबर को मतदान होगा और परिणाम 24 अक्टूबर को आएगा.

Related Posts