दुष्यंत चौटाला के डिप्टी सीएम बनने के बाद इस शख्स ने कटवाई दाढ़ी, 14 साल पहले ली थी शपथ

2004 के बाद अब जाकर चौटाला परिवार हरियाणा की राजनीति में शरीक हो पाए हैं. इसी खुशी में एक पार्टी कार्यकर्ता ने 14 साल बाद दाढ़ी कटवाई है.
deputy cm Dushyant chautala, दुष्यंत चौटाला के डिप्टी सीएम बनने के बाद इस शख्स ने कटवाई दाढ़ी, 14 साल पहले ली थी शपथ

चंडीगढ़: हरियाणा में भाजपा (BJP) और जेजेपी(JJP) गठबंधन की सरकार बन गई है. मनोहर लाल खट्टर (Manahohar Lal Khattar) ने सीएम और जेजेपी पार्टी चीफ दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala ) ने उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है. 2004 के बाद अब जाकर चौटाला परिवार हरियाणा की राजनीति में शरीक हो पाए हैं. इसी खुशी में एक पार्टी कार्यकर्ता ने 14 साल बाद दाढ़ी कटवाई है.

दुष्यंत चौटाला ने कुछ देर पहले एक ट्वीट किया है. उन्होंने लिखा, मैं मिर्चपुर नारनौंद से राजपाल डेविड की प्रतिबद्धता और समर्पण की बहुत प्रशंसा करता हूं. उन्होंने 14 साल पहले शपथ ली थी कि जब तर हरियाणा में चौटाला सरकार नहीं आएगी तब तक वो अपनी दाढ़ी नहीं कटवाएगा. आज उनका नया रूप है. ऐसे मजबूत समर्थकों का उल्लेख हमेशा हमारी सफलता की कहानी में सुनहरे शब्दों में किया जाएगा.


ये भी पढ़ें- Infosys Crisis: सुधा मूर्ति के 10 हजार से खड़ी हुई थी कंपनी, पढ़िए उनके त्याग और सादगी की कहानी

गौरतलब है कि अजय चौटाला के बेटे दुष्यंत चौटाला ने 11 महीने पहले ही जेजेपी पार्टी बनाई थी. हरियाणा विधानसभा चुनावों में दुष्यंत चौटाला की पार्टी को 10 सीटें मिलीं थी. भाजपा को 40 सीटें मिली थी. भाजपा बहुमत से छह सीटें कम थी. बाद में दुष्यंत चौटाला ने अपनी पार्टी का समर्थन बीजेपी को दे दिया जिससे कि हरियाणा में दोबारा भाजपा की सरकार बन पाई. भाजपा ने दुष्यंत को उप मुख्यमंत्री का पद दिया है.

भाजपा ने 10 सीटें पाने वाली JJP के साथ गठबंधन किया है. 65 वर्षीय खट्टर दूसरे कार्यकाल में भी 1 नवंबर 1966 को बने राज्य की सरकार के मुखिया होंगे. भाजपा विधायक दल की शनिवार को हुई बैठक में खट्टर को नेता चुना गया. वह हरियाणा में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के सक्रिय कार्यकर्ता रहे हैं.

खट्टर ने शपथ लेने से पहले मीडिया से कहा, “मेरी सरकार पारदर्शी होगी.” शपथ ग्रहण समारोह में शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के प्रमुख और पांच बार पंजाब के मुख्यमंत्री रहे प्रकाश सिंह बादल अपने बेटे सांसद सुखबीर बादल के साथ शामिल हुए. शिअद का भाजपा की प्रतिद्वंद्वी पार्टी इंडियन नेशनल लोक दल (इनलो) के साथ गठबंधन है.

 

Related Posts