सास-ससुर का ध्यान रखने वाली महिलाओं को 5100 रुपए का नकद इनाम देगी पंचायत

इस बार 50 साल की पुष्पा सैनी को इनाम देकर सम्मानित किया गया है. उन्होंने बिस्तर पर पड़ी अपनी सास की कई साल तक सेवा की थी.

हरियाणा में हिसार जिले के एक गांव में बुजुर्गों का खयाल रखने के लिए अनोखा अभियान शुरू किया गया है. 3 हजार की आबादी वाले इस गांव में महिलाओं को अपने सास-ससुर का ध्यान रखने के लिए प्रेरित करने के लिए ये कदम उठाया गया है. सास-ससुर की सही ढंग से देखभाल करने वाली महिलाओं को हर 15 अगस्त 5100 रुपए का नकद इनाम देकर सम्मानित किया जाएगा.

बीती 15 अगस्त को हंसी सब डिवीजन के अंदर आने वाले जग्गा बर्रा गांव में इस काम की शुरुआत हो चुकी है. इस बार 50 साल की पुष्पा सैनी को इनाम देकर सम्मानित किया गया है. उन्होंने बिस्तर पर पड़ी अपनी सास की कई साल तक सेवा की थी. गांव की सरपंच कमलेश रानी ये सम्मान पुष्पा को दिया.

अजीब बात ये है कि पंचायत ने सिर्फ महिलाओं की जिम्मेदारी तय करने का काम किया है. पुरुषों को अपने माता-पिता या सास ससुर की सेवा के लिए न संदेश दिया गया है न ही इस तरह की कोई इनामी योजना निकाली गई है. सैनी और गुर्जर आबादी वाले इस गांव में सामाजिक ढांचा अभी दकियानूसी है.

ये भी पढ़ें:

लालू यादव ने की थी जिस योजना की शुरुआत, आगे बढ़ाएगी मोदी सरकार

दिल्ली: मकान मालिक को फंसाने के लिए किराएदार ने खुद को मारी गोली, बकाया था 2.5 लाख किराया