गौतम नवलखा को मुंबई शिफ्ट करने पर HC को हैरानी, कहा- केस पेंडिंग होने पर भी NIA ने की जल्दबाजी

गौतम नवलखा (Gautam Navlakha) की वकील नित्या रामाकृष्णन ने कोर्ट में कहा कि नवलखा की जमानत याचिका कोर्ट के सामने पेंडिंग है, लेकिन इसी बीच NIA ने 23 म‌ई को दिल्ली की विशेष NIA अदालत से उनकी न्यायिक हिरासत बढ़वा ली.
HC surprised on Gautam Navlakha shifting to Mumbai, गौतम नवलखा को मुंबई शिफ्ट करने पर HC को हैरानी, कहा- केस पेंडिंग होने पर भी NIA ने की जल्दबाजी

दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi HC) ने भीमा कोरेगांव हिंसा (Bhima Koregaon Violence) मामले में आरोपी गौतम नवलखा (Gautam Navlakha) को मुंबई ट्रांसफर करने के लिए जांच एजेंसी NIA पर सवाल खड़े किए हैं. हाईकोर्ट के जस्टिस अनूप जे. भंभानी ने तिहाड़ जेल में बंद नवलखा को मुंबई ले जाने के NIA के तरीके पर सवाल उठाते हुए कहा है कि मामला लंबित होने के वावजूद NIA ने नवलखा को दिल्ली से मुंबई ले जाने में काफी जल्दबाजी की है.

दरअसल, गौतम नवलखा की वकील नित्या रामाकृष्णन ने कोर्ट में कहा कि नवलखा की जमानत याचिका कोर्ट के सामने पेंडिंग है, लेकिन इसी बीच NIA ने 23 म‌ई को दिल्ली की विशेष NIA अदालत के सामने नवलखा की न्यायिक हिरासत बढ़ाने की मांग करते हुए 22 जून तक नवलखा की न्यायिक हिरासत बढ़वा ली, इतना ही नहीं 24 म‌ई को रविवार होने के बावजूद NIA ने मुंबई की विशेष अदालत से नवलखा को 26 म‌ई सुबह 11 बजे मुंबई जज के सामने पेश करने के लिए प्रोडक्शन वारंट भी जारी करवा लिया था.

ईद की छुट्टी के दिन लगाई गई ट्रांसफर एप्लिकेशन

इसके बाद प्रोडक्शन वारंट के आधार पर तिहाड़ जेल के सुपरिटेंडेंट ने ईद की छुट्टी के दिन 25 म‌ई को नवलखा को दिल्ली से मुंबई ट्रांसफर करवाने के लिए दिल्ली NIA कोर्ट में एप्लिकेशन लगाई, जिसे कोर्ट ने मंजूर कर लिया और गौतम नवलखा को 26 मई को ट्रेन से मुंबई ले जाया गया. फिलहाल आरोपी सोशल एक्टिविस्ट गौतम नवलखा को मुंबई की तलोजा जेल में रखा गया है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

NIA ने छुपाई लंबित जमानत याचिका की जानकारी

नवलखा की वकील ने आरोप लगाया कि NIA की दिल्ली और मुंबई की विशेष अदालत के सामने NIA ने नवलखा की दिल्ली हाईकोर्ट के समक्ष लंबित जमानत याचिका के बारे में जानकारी नहीं दी. वकील ने कहा कि NIA नवलखा को दिल्ली से मुंबई इसलिए भेजा ताकि वो दिल्ली हाईकोर्ट की न्यायिक सीमा से बाहर चले और उनकी जमानत याचिका बेमानी हो जाए, कोरोना (Coronavirus) महामारी के जिस जोखिम के चलते दिल्ली हाईकोर्ट में जमानत याचिका दाखिल की गई थी. वहीं नवलखा को मुंबई भेज दिया गया, जहां इस बीमारी का सबसे ज्यादा जोखिम है.

HC ने NIA से मांगे सभी दस्तावेज

कोर्ट ने गौतम नवलखा की न्यायिक हिरासत बढ़ाने और मुंबई भेजने को लेकर NIA से सभी दस्तावेज उपलब्ध करवाने के लिए कहा, साथ ही कोर्ट ने तिहाड़ जेल के सुपरिटेंडेंट से नवलखा के मेडिकल रिकॉर्ड भी कोर्ट में जमा का निर्देश दिया, कोर्ट मामले में अगली सुनवाई 3 जून को करेगा.

क्या है मामला?

आपको बता दें कि 2018 के भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में शामिल होने के आरोपों को लेकर नवलखा को UAPA के तहत आरोपी बनाया गया था और सुप्रीम कोर्ट (SC) के आदेश पर नवलखा ने अप्रैल में NIA दिल्ली के सामने सरेंडर किया था, जिसके बाद नवलखा को तिहाड़ जेल (Tihar Jail) में रखा गया था, लेकिन बाद में गौतम नवलखा को मुंबई भेजा गया. हाल ही में नवलखा ने दिल्ली हाईकोर्ट में अपनी उम्र, स्वास्थ और Covid-19 का हवाला देते हुए जमानत याचिका भी दाखिल की थी, जिसपर 22 म‌ई को दिल्ली हाईकोर्ट ने NIA को नोटिस जारी कर जवाब मांगा था.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts