तबलीगी जमात के सवाल पर बोले स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन, ‘बार-बार इस मुद्दे को उठाने से कष्ट होता है’

बीजेपी नेता जीवीएल नरसिम्हा राव (GVL Narsimha Rao) के यह पूछे जाने पर कि क्या भारत में तबलीगी जमात (Tablighi Jamaat) के बाद कोरोना ने तेजी पकड़ी?, हर्षवर्धन ने कहा कि मुझे अब इस मुद्दे को फिर से उठाना बुरा लग रहा है.
Harsh Vardhan said on question of Tablighi Jamaat, तबलीगी जमात के सवाल पर बोले स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन, ‘बार-बार इस मुद्दे को उठाने से कष्ट होता है’

देश में तबलीगी जमात (Tablighi Jamaat) को लेकर पिछले दिनों काफी चर्चा और बहस हुई, लेकिन जब केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन (Dr. Harshvardhan) से इस बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, बार-बार इस मुद्दे को उठाने से कष्ट होता है. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि इसमें दो राय नहीं कि दिल्ली (Delhi) में तबलीगी जमात के कार्यक्रम के बाद देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) के मामले काफी तेजी से बढ़े हैं.

न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक, बीजेपी नेता जीवीएल नरसिम्हा राव (GVL Narsimha Rao) के यह पूछे जाने पर कि क्या भारत में तबलीगी जमात के बाद कोरोना ने तेजी पकड़ी?, हर्षवर्धन ने कहा, “इस बारे में काफी चर्चा और बहस हुई है. मुझे अब इस मुद्दे को फिर से उठाना बुरा लग रहा है.”

उन्होंने आगे कहा “हालांकि, मार्च के दूसरे हफ्ते के आसपास, जब दुनिया में वायरस बहुत तेजी से फैल रहा था और देश को पहला मामला दर्ज किए डेढ़ महीने बीत चुके थे, तब भी देश में मामलों की संख्या बहुत कम थी.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

‘एक दुर्भाग्यपूर्ण और दुखद घटना’

स्वास्थ्य मंत्री ने आगे कहा कि “उस समय यह एक दुर्भाग्यपूर्ण और दुखद घटना हुई थी. जब यह कार्यक्रम हुआ तो वहां सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया गया. उस समय दिल्ली में यह स्थिति थी कि जहां 10-15 लोग एक साथ खड़े नहीं हो सकते थे. ऐसे समय में 12 से अधिक देशों के लोग वहां आए.”

लोगों के इधर-उधर होने से बढ़े केस

हर्षवर्धन ने आगे कहा, “जब इसकी सूचना मिली, तो बहुत सारे लोग वहां से हटा दिए गए थे और बहुत से लोग पहले ही चले गए थे. शायद इस वजह से देश के विभिन्न राज्यों में मामलों की संख्या बढ़ गई.”

आखिर में उन्होंने कहा कि कई राज्य सरकारों और गृह मंत्रालय के अधिकारियों ने बहुत मदद की थी. मंत्री ने आगे कहा, “कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग भी की गई थी, लेकिन आखिरकार, मामलों की संख्या बढ़ गई और लॉकडाउन लागू कर दिया गया, लेकिन इस पर चर्चा करने की कोई जरूरत नहीं है कि बहुत सारे लोगों का पता लगाया गया, उन्हें छोड़ दिया गया और इलाज किया गया.”

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts