‘कांग्रेस की तरफ से पृथ्‍वीराज चव्‍हाण मांगें माफी’, प्रज्ञा ठाकुर पर विवाद में पीयूष गोयल की एंट्री

साध्‍वी प्रज्ञा ठाकुर को चुनाव आयोग की तरफ से नोटिस भी जारी किया गया है.

साध्‍वी प्रज्ञा ठाकुर को भोपाल लोकसभा सीट से उम्‍मीदवार बनाने पर घिरी बीजेपी की ओर से केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने मोर्चा संभाला है. गोयल ने वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता और महाराष्‍ट्र के पूर्व सीएम अशोक चव्‍हाण के बयान पर प्रतिक्रिया दी. गोयल के अनुसार, चव्‍हाण की पार्टी ने ‘हिंदुओं को आतंक से जोड़ा’, जिसके लिए उन्‍हें माफी मांगनी चाहिए.

गोयल ने कहा है, “पूरे हिंदू समुदाय को ‘आतंक’ से जोड़कर देखने वाली कांग्रेस की तरफ से पृथ्‍वीराज चव्‍हाण को माफी मांगनी चाहिए. उन्‍होंने पूरे एक समुदाय को बदनाम किया है. कांग्रेस के पास कोई मुद्दा और दिशा नहीं है. कांग्रेस समाज को बांटने और आतंकियों को शह देने का काम कर रही है. उनकी राष्‍ट्रविरोधी गतिविधियों के लिए भारत के लोग उन्‍हें (कांग्रेस) कभी माफ नहीं करेंगे.”

गोयल, पृथ्‍वीराज चव्‍हाण के उस बयान पर जवाब दे रहे थे जिसमें उन्‍होंने साध्‍वी प्रज्ञा ठाकुर की उम्‍मीदवारी को लेकर सवाल उठाए थे. चव्‍हाण ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से माफी मांगने की मांग करते हुए कहा था कि ठाकुर की उम्‍मीदवारी रद्द की जाए.

साध्‍वी प्रज्ञा ठाकुर को चुनाव आयोग की तरफ से नोटिस भी जारी किया गया है. उन्होंने बाबरी विध्वंस मामले पर टीवी9 भारतवर्ष से इंटरव्यू में कहा था, “राम मंदिर हम बनायेंगे एवं भव्य बनायेंगे. हम तोड़ने गए थे ढांचा, मुझे इस पर भयंकर गर्व है. मुझे ईश्वर ने शक्ति दी है. हमने देश का कलंक मिटाया है.”

क्या है ‘हिन्दू टेरर’?

2006 मालेगांव बम धमाकों वाले मामले के बाद कथित तौर पर “भगवा आतंक” या “हिन्दू आतंक” का जिक्र शुरू हुआ. चुनाओं के दौरान भी “भगवा आतंक” को लेकर कांग्रेस के कई सदस्यों ने बीजेपी को निशाने पर लिया. चुनाव आयोग ने 2007 में सोनिया गांधी और दिग्विजय सिंह को इस मामले में नोटिस भी जारी किया था.

तत्कालीन गृहमंत्री पी. चिदंबरम ने एक बैठक में “भारतीयों से ‘भगवा आतंकवाद’ से सावधान रहने की अपील” की थी. तब चिदंबरम के खिलाफ एक हिंदू स्वामी ने केस भी दर्ज कराया था. 2010 में, गुजरात की एक अदालत ने चिदंबरम द्वारा इस शब्द के इस्तेमाल की जांच के आदेश दे दिए थे.

ये भी पढ़ें

EXCLUSIVE: हेमंत करकरे पर सवाल से तमतमा गईं प्रज्ञा ठाकुर, इंटरव्यू बीच में छोड़ा, देखिए VIDEO

प्रज्ञा ठाकुर ने EC के नोटिस के बाद फिर दोहराया बाबरी पर बयान