गृह मंत्रालय का बड़ा फैसला, लॉकडाउन के बीच इन खास सेवाओं को मिलेगी रियायत

किसानों (Farmers) को अपनी खड़ी फसल की कटाई के लिए मजदूरों की जरूरत है, लेकिन लॉकडाउन (Lockdown) के चलते न तो उनके पास मजदूर हैं और न ही पर्याप्त मशीनें.
guidelines regarding lockdown, गृह मंत्रालय का बड़ा फैसला, लॉकडाउन के बीच इन खास सेवाओं को मिलेगी रियायत

कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए देश में 21 दिनों का लॉकडाउन लगाया गया है, जिसका आज 11वां दिन है. अब लॉकडाउन के बीच गृह मंत्रालय ने कुछ जरूरी सेवाओं के लिए लॉकडाउन में छूट देने का ऐलान किया है. इसमें खेती से जुड़ी मशीनों, रिपेयरिंग की दुकान, हाइवे पर ट्रकों की मरम्मत से जुड़ी दुकानों समेत कुछ अन्य सेवाओं पर छूट का ऐलान किया गया है.

शुक्रवार को गृह मंत्रालय ने नई एडवाइजरी जारी की, जिसमें लॉकडाउन में दी जाने वाली छूट की लिस्ट दी गई थी. किसानों को अपनी खड़ी फसल की कटाई के लिए मजदूरों की जरूरत है लेकिन लॉकडाउन के चलते न तो उनके पास मजदूर हैं और न ही पर्याप्त मशीनें. मशीनें लेने के लिए भी किसानों को दूसरे राज्य जाना पड़ता है.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

गृह मंत्रालय ने यह भी कहा है कि हाईवे पर ट्रकों की मरम्मत करने वाले गैरेज तथा पेट्रोल पंपों को भी चालू किया जा सकेगा, ताकि कृषि उपज का परिवहन सुगमता से हो सकें. इसी तरह, चाय बागानों पर अधिकतम 50 प्रतिशत कर्मचारी रखते हुए काम किया जा सकेगा.

इसी के मद्देनजर गृह मंत्रालय मे खेती से जुड़ी मशीनें, उनके स्पेयर पार्ट्स और रिपेयरिंग से जुड़ी दुकानों को लॉकडाउन के दौरान खुलन की छूट दी है.  इसके साथ ही चाय उद्योग और बगानों को भी लॉकडाउन में छूट दी गई है. 50 वर्कर्स के साथ चाय उद्योग अपना काम शुरू कर सकता है.

इतना ही नहीं केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने देश के सभी केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को पत्र लिखकर खेती और किसानों को लॉकडाउन के दौरान दी जाने वाली छूट को सुनिश्चित करने को कहा है, ताकि किसानों को किसी भी परेशानी का सामना न करना पड़े.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts