दिल्‍ली में डोर टू डोर स्‍क्रीनिंग: MHA ने कहा- पहले कंटेनमेंट जोन में पूरा होगा काम

दिल्ली में कंटेनमेंट जोन की संख्या 435 हो गई है. ऐसे में सूत्रों ने बताया है कि एक बार जब कंटेनमेंट जोन में डोर-टू-डोर सर्वे पूरा हो जाएगा उसके बाद पूरी दिल्ली में इसे लागू किया जाएगा.

प्रतीकात्मक
PS- PTI

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने दिल्ली के सभी क्षेत्रों में डोर-टू-डोर स्क्रीनिंग को रोकने का फैसला किया है, ताकि पहले कंटेनमेंट जोन में प्राथमिकता के आधार पर स्क्रीनिंग की जा सके. न्यूज एजेंसी से बातचीत में सूत्रों ने इस बात की जानकारी दी है. मालूम हो कि दिल्ली में कोरोनावायरस से लड़ाई के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने दिल्ली सरकार को 6 जुलाई तक दिल्ली के 35 लाख से ज्यादा घरों की डोर-टू-डोर स्क्रीनिंग करने का निर्देश दिया था.

अब गृह मंत्रालय ने इस निर्देश पर रोक लगा दी है, ताकि पहले कंटेनमेंट जोन को प्राथमिकता दी जा सके. सूत्रों ने बताया कि प्राथमिकता के आधार पर पहले डोर-टू-डोर सर्वे कंटेनमेंट जोन में किया जाएगा. ये सर्वे वैसे तो 6 जुलाई तक पूरा करने का लक्ष्य है, लेकिन दिल्ली में कंटेनमेंट जोन की संख्या में बढ़ोतरी होने के बाद इसकी डेडलाइन को आगे बढ़ाया जा सकता है.

जानकारी के मुताबिक दिल्ली में कंटेनमेंट जोन की संख्या 435 हो गई है. ऐसे में सूत्रों ने बताया है कि एक बार जब कंटेनमेंट जोन में डोर-टू-डोर सर्वे पूरा हो जाएगा उसके बाद पूरी दिल्ली में इसे लागू किया जाएगा. मालूम हो कि राजधानी दिल्ली में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं. दिल्ली में कोरोना संक्रमित लोगों का आंकड़ा 80 हजार के पार जा चुका है. अब तक 2,600 से ज्यादा लोग राष्ट्रीय राजधानी में कोरोना के चलते अपनी जान गंवा चुके हैं.

Related Posts