‘अगर 100 फीसदी तक जाएगी कॉलेज की कटऑफ, तो बाकी बच्चे कहां जाएंगे’- दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल

दिल्ली विश्वविद्यालय अधिनियम (Delhi University Act) में बदलाव को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने विश्वविद्यालय अधिनियम के अनुच्छेद 5(2) को खत्म करने की मांग की है. उन्होने कहा कि दिल्ली के कुछ कॉलेजों में कटऑफ 100 फीसदी तक गई है, अगर 100 फीसदी तक कटऑफ जाएगी तो बाकी बच्चे कहाँ जाएंगे.

'अगर 100 फीसदी तक जाएगी कॉलेज की कटऑफ, तो बाकी बच्चे कहां जाएंगे'- दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल

दिल्ली विश्वविद्यालय अधिनियम (Delhi University Act) में बदलाव को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने विश्वविद्यालय अधिनियम के अनुच्छेद 5(2) को खत्म करने की मांग की है. उन्होने कहा कि दिल्ली के कुछ कॉलेजों में कटऑफ सौ फीसदी तक गई है, अगर 100 फीसदी तक कटऑफ जाएगी तो बाकी बच्चे कहाँ जाएंगे.

केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘कॉलेज की कट ऑफ 99-100 फीसदी होने की वजह से दिल्ली के विद्यार्थियों को परेशानी हो रही है, दिल्ली में कॉलेज और यूनिवर्सिटी की बहुत ज्यादा कमी हो गई है, सीटें कम और बच्चों की संख्या ज्यादा हो गई है, जिसके चलते 12वीं के बाद आगे की पढ़ाई करने के लिए छात्रों को कॉलेज में एडमिशन नहीं मिल पाता है’. केजरीवाल ने कहा कि ‘जितनी तेजी से बच्चों की संख्या बढ़ रही है उतनी ही तेजी से कॉलेज और यूनिवर्सिटी का निर्माण करना होगा’.

ये भी पढ़ें: ‘दिल्ली को मिले साफ हवा’, पराली जलाना रोकने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने गठित की कमेटी

कॉलेज में दिल्ली के बच्चों के लिए सिर्फ 50 फीसदी कैपेसिटी

केजरीवाल ने आगे कहा कि ‘दिल्ली में हर साल करीब ढाई लाख बच्चे 12वीं पास करते हैं, उनमें से सिर्फ सवा लाख बच्चों को ही कॉलेज में दाखिला मिलता है, अगर ऐसा होगा, तो बाकि के बच्चे कहा जाएंगे’. उन्होने आगे कहा कि ‘दिल्ली के कॉलेजों में दिल्ली के बच्चों के लिए केवल 50 फ़ीसदी की कैपेसिटी है, दिल्ली में इस समय बहुत सारे कॉलेज और यूनिवर्सिटी खोलने की जरूरत है, हम यूनिवर्सिटी और कॉलेज खोलने और निवेश करने के लिए भी तैयार हैं, मगर एक बहुत बड़ी कानूनी अड़चन हमारे सामने आ रही है, दिल्ली यूनिवर्सिटी एक्ट अंग्रेजों के समय बना था और उसमें यह लिखा है कि दिल्ली में अगर कोई भी कॉलेज खुलेगा तो वह केवल दिल्ली यूनिवर्सिटी (Delhi University) के साथ ही जुड़ सकता है, इसी वजह से कोई भी नई यूनिवर्सिटी नहीं खुल पा रही है’. केजरीवाल ने कहा, ‘दिल्ली यूनिवर्सिटी के 91 कॉलेज हैं, इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी (IP) के 127 कॉलेज, दिल्ली की 9 यूनिवर्सिटी हैं, JNU आदि हैं.’

ये भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर: बडगाम मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने ढेर किया एक आतंकी, दूसरा जिंदा पकड़ा गया

Related Posts