priyanka sohani, Mahabalipuram Summit: PM मोदी और राष्ट्रपति जिनपिंग की ‘आवाज’ बनीं ये महिला IFS अफसर
priyanka sohani, Mahabalipuram Summit: PM मोदी और राष्ट्रपति जिनपिंग की ‘आवाज’ बनीं ये महिला IFS अफसर

Mahabalipuram Summit: PM मोदी और राष्ट्रपति जिनपिंग की ‘आवाज’ बनीं ये महिला IFS अफसर

प्रियंका सोहानी ने यूपीएससी परीक्षा में 26 रैंक हासिल की थी. सोहानी साल 2016 से चीन में भारतीय दूतावास में तैनात हैं.
priyanka sohani, Mahabalipuram Summit: PM मोदी और राष्ट्रपति जिनपिंग की ‘आवाज’ बनीं ये महिला IFS अफसर

चीन के राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग शुक्रवार को दो दिवसीय भारत दौरे पर आए. इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति जिनपिंग ने दोनों देशों के बीच संबंधों के बारे में अनौपचारिक बातचीत की. पीएम मोदी और राष्‍ट्रपति जिनपिंग के बीच भाषा की ‘दीवार’ को खत्म करने का काम भारत की महिला आईएफएस अफसर प्रियंका सोहानी ने किया.

आईएफएस प्रियंका सोहानी ने पीएम मोदी को राष्‍ट्रपति जिनपिंग द्वारा मंदारिन में कही गई बातों को हिंदी में अनुवाद किया. इसी तरह से पीएम मोदी की हिंदी में कही गई बात को राष्‍ट्रपति जिनपिंग के लिए मंदारिन में अनुवाद किया. सोहानी के रहते दोनों नेताओं के बीच बातचीत सुचारू रूप से होती रही.

priyanka sohani, Mahabalipuram Summit: PM मोदी और राष्ट्रपति जिनपिंग की ‘आवाज’ बनीं ये महिला IFS अफसर

2012 बैच की IFS अधिकारी हैं सोहानी
प्रियंका सोहानी साल 2012 बैच की आईएफएस अधिकारी हैं. सोहानी विदेश मंत्रालय के बेस्‍ट ट्रेनी ऑफिसर का गोल्‍ड मेडल जीत चुकी हैं. उन्‍हें बेहतरीन प्रदर्शन को देखते हुए तत्‍कालीन विदेश सचिव सुजाता सिंह ने बिमल सान्‍याल पुरस्‍कार से सम्‍मानित किया था.

प्रियंका सोहानी महाराष्‍ट्र से यूपीएससी में सफल होने वाले लोगों में तीसरे नंबर पर थीं. उन्‍होंने यूपीएससी परीक्षा में 26 रैंक हासिल की थी. सोहानी साल 2016 से चीन में भारतीय दूतावास में तैनात हैं.

priyanka sohani, Mahabalipuram Summit: PM मोदी और राष्ट्रपति जिनपिंग की ‘आवाज’ बनीं ये महिला IFS अफसर

‘अधिकारियों को कदमताल करने की जरूरत’
सोहानी का मानना है कि विदेश नीति का यह दौर काफी व्‍यापक और तेजी से बदल रहा है. इसमें अधिकारियों को कदमताल करने की जरूरत है. फिलहाल, मीडिया में प्रियंका सोहानी की खूब चर्चा हो रही है. लोग सोहानी के बारे में जानकारियां जुटा रहे हैं.

ये भी पढ़ें-

भारत-चीन के बीच सहयोग का नया दौर, मतभेद की वजह से झगड़े नहीं- पीएम मोदी

PM मोदी को जिनपिंग ने दिया चीन आने का न्योता, कश्मीर मुद्दे पर नहीं हुई कोई बात

72 साल में कैसे बदलते गए भारत-चीन के रिश्‍ते, तस्‍वीरों में देखिए

priyanka sohani, Mahabalipuram Summit: PM मोदी और राष्ट्रपति जिनपिंग की ‘आवाज’ बनीं ये महिला IFS अफसर
priyanka sohani, Mahabalipuram Summit: PM मोदी और राष्ट्रपति जिनपिंग की ‘आवाज’ बनीं ये महिला IFS अफसर

Related Posts

priyanka sohani, Mahabalipuram Summit: PM मोदी और राष्ट्रपति जिनपिंग की ‘आवाज’ बनीं ये महिला IFS अफसर
priyanka sohani, Mahabalipuram Summit: PM मोदी और राष्ट्रपति जिनपिंग की ‘आवाज’ बनीं ये महिला IFS अफसर