• Home  »  देश   »   तमिलनाडु से लेकर दिल्ली और पंजाब तक जवानों को दिए जा रहे इम्युनिटी बूस्टर

तमिलनाडु से लेकर दिल्ली और पंजाब तक जवानों को दिए जा रहे इम्युनिटी बूस्टर

एमिनिटी प्लस (Amenity Plus) को 51 जड़ी बूटियों से बनाया गया है. इसमें अश्वगंधा, गुडूची, बड़ी हरद, आंवला, मजीठा, हल्दी, नीम आदि शामिल हैं. इम्युनिटी (Immunity) बढ़ाने के अलावा इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट तत्व शरीर में से जहरीले तत्वों को बाहर निकालने में मदद करते हैं.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 4:59 pm, Sun, 27 September 20

कोरोना महामारी से बचाव के लिए अब ज्यादातर राज्य अपने मानव संसाधनों (Human Resource) की इम्युनिटी बढ़ाने की राह पर हैं. तमिलनाडु से लेकर दिल्ली और पंजाब तक में सुरक्षा जवानों को इम्युनिटी बूस्टर (Immunity boosters) दिए जा रहे हैं ताकि कोरोना संक्रमण से उनका बचाव हो सके. देश के सात लाख आयुष डॉक्टरों को गाइडलाइंस भी भेजी जा चुकी है.

हाल ही में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन (Harsh Vardhan) ने कहा था कि कोविड महामारी के प्रबंधन में आयुष थेरेपी की भूमिका अहम है. उन्होंने बताया कि आयुष मंत्रालय (AYUSH Ministry) के जरिए देश भर के आयुष डॉक्टरों को इम्युनिटी बूस्टर पर दिशानिर्देश भेजे जा चुके हैं.

जवानों को दिया जा रहा एमिनिटी प्लस

दिल्ली पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कोरोनावायरस (Coronavirus) से बचाव के लिए गिलोय, अश्वगंधा और तुलसी आदि औषधियों से बनाए गए काढ़े का इस्तेमाल जवान कर रहे हैं. जवानों को आयुरक्षा किट उपलब्ध कराई जा रही है जिसमें काढ़े के अलावा औषधियों से बनीं दवाएं शामिल हैं.

ये भी पढ़ें : दुनियाभर में कोविड-19 के मामले 3.27 करोड़ के पार, पढ़ें- किस देश का कैसा है हाल

पंजाब (Punjab) में भी कुछ ही समय पहले मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Amarinder Singh) ने पुलिस जवानों को किट बांटने फैसला लिया था. इसमें एमिनिटी प्लस (मल्टी सिस्टम इम्यून डिफेंसिस दवा) के अलावा मास्क, ऑक्सीमीटर और औषधियों से बनी दवाएं शामिल हैं.

51 जड़ी बूटियों से बना है एमिनिटी प्लस

इस किट को बनाने वाली एमिल फार्मास्युटिकल के कार्यकारी निदेशक (Executive Director) डॉ. संचित शर्मा ने बताया कि एमिनिटी प्लस को 51 जड़ी बूटियों से बनाया गया है. इसमें अश्वगंधा, गुडूची, सुंठी, बड़ी हरद, याष्टीमधु, आंवला, मजीठा, हल्दी, नीम आदि शामिल हैं. रोग प्रतिरोधक क्षमता (Immunity) बढ़ाने के अलावा इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट तत्व शरीर में मौजूद जहरीले तत्वों को बाहर निकालने में मदद करते हैं.

तमिलनाडु में कोरोना वॉरियर्स को भी किट

वहीं तमिलनाडु सरकार (Tamil Nadu) ने भी अपने यहां कोरोना वॉरियर्स को अथिमाथुराम और काबसुरा कुदिनेर इम्युनिटी बूस्टर का इस्तेमाल कराने का फैसला लिया है. इसे लेकर कोरोना योद्धाओं (Corona Warriors) को किट बांटने का सिलसिला भी शुरू हो चुका है.

ये भी पढ़ें : थैंक्यू पीएम मोदी! UNGA में कोरोना वैक्सीन के वादे की WHO प्रमुख ने की तारीफ

मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी (Palaniswami) ने जारी बयान में कहा है कि अब तक कोरोनावायरस का कारगर इलाज सामने नहीं आया है. ऐसे में रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत रखना ही एकमात्र विकल्प है. चूंकि कोरोना वॉरियर्स को संक्रमण का खतरा ज्यादा है, इसलिए इम्युनिटी बूस्टर के इस्तेमाल का फैसला लिया.

जागरूकता बढ़ाने के लिए ई-मैराथन

वहीं, आयुष मंत्रालय ने बताया कि इम्युनिटी बूस्टर के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए ई-मैराथन का फैसला लिया गया है. 28 सिंतबर से 10 अक्टूबर तक चलने वाले इस आयोजन का समापन आयुष फॉर इम्युनिटी अभियान (Ayush for Immunity Campaign) के विहारा केंद्र बिंदु के साथ होगा. प्रतिभागी अपनी पसंद की जगह पर भाग ले सकेंगे. कंप्यूटर टेक्नोलॉजी पर आधारित एक ऐप के जरिए सभी प्रतिभागियों (Participants) को जोड़ा जाएगा. (IANS)

Corona: पांच तरह की आयुर्वेदिक चाय से बढ़ाएं इम्‍युनिटी, बेहद आसान है बनाने की विधि