भारत ने उड़ाया तोपखाना, मारे आतंकी.. तो पाकिस्तान ने यूं बांधा झूठ का पुलिंदा

इस मामले पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत से बात की. रक्षा मंत्री खुद इस मामले और बॉर्डर पर हालातों की मॉनिटरिंग कर रहे हैं और आर्मी चीफ उन्हें पल-पल की अपडेट भी दे रहे हैं.

सीजफायर उल्लंघन की आड़ में आतंकी घुसपैठ को अंजाम देने वाले पाकिस्तान ने एक बार फिर ये नापाक कोशिश की. जिसका जवाब भारतीय सेना ने आर्टिलरी तोपों से दिया. भारत की इस कार्रवाई में पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में चार आतंकी कैंप बुरी तरह से तबाह हो गए. हालांकि पाकिस्तान इस पर झूठ का पुलिंदा बांध कर भारतीय सैनिकों के हताहत होने की कहानी लिख रहा है.

इसी कड़ी में पाकिस्तान सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आशिफ गफूर ने ट्वीट कर भारतीय सैनिकों के पैर वापस खींचने की बात कही. इसी के साथ वह यह भी दावा करते नजर आए कि भारतीय सेना द्वारा की गई गोलीबारी में पाकिस्तान के पांच नागरिक और एक सैनिक की मौत हो गई. गफूर का कहना है कि पाकिस्तानी गोलीबारी में 9 भारतीय सैनिक शहीद हुए और उन्होंने दो भारतीय बंकर भी तबाह कर दिए.

भारत ने आर्टिलरी तोपों से मचाई पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के आतंकी कैंपों में तबाही

हालांकि भारतीय सेना के सूत्रों के मुताबिक तंगधार सेक्टर में सीजफायर का उल्लंघन करते हुए आतंकियों की घुसपैठ कराने की कोशिश में पाकिस्तान की ओर से की गई फायरिंग में दो भारतीय जवान शहीद हो गए थे. इस गोलीबारी में एक स्थानीय नागरिक की भी मौत हो गई. साथ ही तंगधार सेक्टर में एक घर, एक चावल का गौदाम, दो कार और दो गोशालाएं जिसमें 19 मवेशी थी, पूरी तरह से दुर्घटनाग्रस्त हो गए. पाकिस्तान की इस नापाक हरकत के बाद भारतीय सेना ने आर्टिलरी तोपों से इसका जवाब दिया.

भारतीय सेना की इस कार्रवाई से पाकिस्तान की नीलम वैली में स्थित आतंकी कैंपो में भारी तबाही मच गई. भारतीय आर्टिलरी फायरिंग में पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में चार आतंकी कैंप पूरी तरह से तबाह हो गए. 4-5 पाकिस्तानी जवान भी इस कार्रवाई में मारे गए. हालांकि इससे उलट पाकिस्तान 9 भारतीय सैनिकों के मारे जाने का दावा कर रहा है.

पाकिस्तान ने भारतीय डिप्टी हाई कमिश्नर को किया तलब, राजनाथ के पास पल-पल का अपडेट

इस मामले पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत से बात की. रक्षा मंत्री खुद इस मामले और बॉर्डर पर हालातों की मॉनिटरिंग कर रहे हैं और आर्मी चीफ उन्हें पल-पल की अपडेट भी दे रहे हैं. वहीं पीओके में आतंकी कैंपों पर भारतीय सेना द्वारा आर्टिलरी फायर किए जाने के बाद पाकिस्तान विदेश मामलों के मंत्रालय ने इस्लामाबाद स्थित भारतीय डिप्टी हाई कमिश्नर गौरव अहलूवालिया को समन किया.

सेनाध्यक्ष बोले पाकिस्तानी आतंकी घुसपैठ की फिराक में

इस मामले में सेनाध्यक्ष बिपिन रावत ने कहा कि सेना को इनपुट मिला था कि यहां पर आतंकियों के शिविर हैं और ये आतंकी भारत में घुसपैठ करने के फिराक में बैठे हुए हैं. आतंकी जम्मू कश्मीर में स्थितियां भड़काना चाहते हैं यहां की शांति उनको रास नहीं आ रही है.

सेनाध्यक्ष बिपिन रावत ने कहा कि उनके पास पुख्ता इनपुट मिला था जिसके बाद सेना की ओर से कार्रवाई की गई. इस कार्रवाई में 6 से 10 पाकिस्तानी सैनिकों के मारे जाने की खबर है और कई आतंकियों को मौत के घाट उतारा गया है. ये आतंकी घाटी में अशांति पैदा करना चाहते हैं. इस वक्त घाटी में सेब निकाले जा रहे हैं. ये आतंकी उनको धमका रहे हैं. घाटी में सभी प्रतिबंध हटा दिए गए हैं. लेकिन लोग आतंकियों के डर से बाहर कम निकल रहे हैं. बच्चे स्कूल भी नहीं जा रहे हैं.

ये भी पढ़ें: अब ढाका, काठमांडू के दूतावास में बैठकर भारत के खिलाफ पाकिस्तान रच रहा है साजिश