Coronavirus: रशियन वैक्सीन को भारत ने दी सैद्धांतिक मंजूरी, जल्द शुरू होगा ट्रायल

देश में वैक्सीन बनाने को लेकर चल रही प्रगति काफी सही दिशा में है. उन्होंने कहा कि तीन कंपनियों में से दो कंपनी ने पहले चरण का ट्रायल पूरा कर दूसरे चरण में प्रवेश किया है. जबकि सीरम जल्द ही तीसरे चरण की ट्रायल की तैयारी में है.

  • TV9 Hindi
  • Publish Date - 6:24 pm, Tue, 8 September 20

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच हर किसी की उम्मीद अब वैक्सीन पर आ टिकी है. इसी क्रम में नीति आयोग के सदस्य डॉ वी के पॉल ने बताया कि रशियन वैक्सीन (स्पूत्निक) का ट्रायल हिंदुस्तान में जल्द ही शुरू होने वाला है. उन्होंने कहा कि इसे कैसे अमली जामा पहनाया जाए इसे लेकर दोनों देशों के बीच बातचीत चल रही है. डॉ वी के पॉल ने भारत रूस मैत्री का हवाला देते हुए कहा कि वैक्सीन को लेकर दोनों देश बड़ी तेजी से आगे बढ़ रहे हैं.

भारतीय रेगुलेटरी अथॉरिटी के सामने वैक्सीन

डॉ पॉल ने कहा कि फिलहाल रशियन वैक्सीन से जुड़ी जानकारी को हमारे साथ साझा किया गया है. भारतीय रेगुलेटरी अथॉरिटी के सामने इस वैक्सीन को लाया गया है. वैक्सीन से जुड़ी जानकारी पर विचार किया जा रहा है. साथ ही इसके व्यवहारिक पहलू को भी देखा जा रहा है.

ट्रायल होगा भारत में

डॉ वी के पॉल ने बताया कि रशियन वैक्सीन का ट्रायल भारत में भी होगा. हालांकि रूस ने इसे लेकर पहले भी कई तरह के दावे किए हैं, लेकिन प्राप्त जानकारी के मुताबिक तीसरे चरण का ट्रायल हम हिंंदुस्तान में करेंगे. यह ट्रायल कब से और कहां-कहां होगा, इसे लेकर विचार किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि दिल्ली, मुंबई और देश में कई जगह हैं जहां रशियन वैक्सीन के तीसरे चरण का ट्रायल होगा.

कंपनियों की तलाश

रशियन वैक्सीन का उत्पादन और संग्रहण कैसे किया जाए, इसके लिए रेगुलेटरी अथॉरिटी ने कंपनियों की तलाश शुरू कर दी है. डॉ पाल ने बताया कि कुछ कंपनियों ने इस दिशा में काम करने की इच्छा जाहिर की है. अब आगे कैसे इसपर काम किया जाए इसके लिए रणनीति तैयार की जा रही है.

वैक्सीन की प्रगति सही दिशा में

डॉ पॉल ने कहा कि देश में वैक्सीन बनाने को लेकर चल रही प्रगति काफी सही दिशा में है. उन्होंने कहा कि तीन कंपनियों में से दो कंपनी ने पहले चरण का ट्रायल पूरा कर दूसरे चरण में प्रवेश किया है. जबकि सीरम जल्द ही तीसरे चरण की ट्रायल की तैयारी में है.