जन-जन तक कोरोना वैक्सीन पहुंचाने की चुनौती, पोलियो पर विजय का अनुभव आएगा काम

कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाने के लिए या फिर संक्रमण के खतरे को कम करने के लिए हर किसी को वैक्सीन के दो डोज जरूरत पड़ेगी. इसका मतलब यह है कि देश में अगले छह महीनों में कोरोना वैक्सीन की 400-500 मिलियन डोज की आवश्यकता होगी.

भारत (India) समेत दुनिया भर में कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) विकसीत करने का काम तेजी से चल रहा है. माना जा रहा है कि इस साल के अंत तक या फिर अगले साल के शुरुआती महीनों में वैक्सीन तैयार कर ली जाएगी. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने हाल ही में कहा था कि ‘अगले कुछ ही महीनों में हमारे पास वैक्सीन उपलब्ध होगी. साथ ही अगले छह महीने में हमें वैक्सीन को जन-जन तक पहुंचाने की व्यवस्था तैयार करनी होगी.’

कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाने के लिए या फिर संक्रमण के खतरे को कम करने के लिए हर किसी को वैक्सीन के दो डोज जरूरत पड़ेगी. इसका मतलब यह है कि देश में अगले छह महीनों में कोरोना वैक्सीन की 400-500 मिलियन डोज की आवश्यकता होगी.

‘भारत ने पोलियो को खत्म करके दिखाया’

नेशनल पोलियोप्लस चेयर फॉर इंडिया से जुड़े दीपक कपूर कहते हैं कि ‘भारत में जब पोलियो के लिए वैक्सीन देने का काम शुरू हुआ तो कई विशेषज्ञों का यह कहना था कि इसे पूरा कर पाना संभव नहीं होगा, लेकिन भारत ने ऐसा कर दिखाया. हमारे सामने बड़ी जनसंख्या, दूर-दराज के इलाके, साफ-सफाई से लेकर कई तरह की चुनौतियां थीं. बावजूद इसके भारत से पोलियो को खत्म कर दिया गया.’

कोरोना वैक्सीन Tracker: चीन में लोगों के बीच ट्रायल टीका लगवाने की मची होड़

देश में पोलियों का आखिरी केस 13 जनवरी 2011 को मिला था. 27 मार्च 2014 को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भारत को पोलियो मुक्त घोषित कर दिया. इसके बाद से अब तक देश में पोलियोस को कोई मामला सामने नहीं आया है.

वैक्सीन के लिए कोल्ड-चेन बनाना चुनौती

कपूर ने कहा, “यह संभव है, इसके लिए वैक्सीन वितरण में बहुत अधिक प्रशिक्षण की आवश्यकता होगी क्योंकि कोल्ड-चेन को पर्याप्त होना चाहिए. कुछ ऐसी कोरोना वैक्सीन हैं जिनके लिए माइनस 30 डिग्री सेल्सियस तापमान की जरूरत पड़ेगी. ऐसी भी वैक्सीन हैं जो माइनस 70 डिग्री सेल्सियस तापमान पर प्रभावशाली होंगी. ऐसे में हमें देश में पर्याप्त कोल्ड-चेन बनाने की जरूरत है.”

देश में 74 लाख से अधिक कोरोना पीड़ित

देश में कोरोनावायरस के मामलों में लगातार कमी देखी जा रही है. पिछले 24 घंटों में देश में 61,871 नए मामले सामने आए, जिसके बाद कुल मामलों की संख्या 74,94,551 हो गई है. केंद्रीय स्वास्थ्य एवं कल्याण मंत्रालय ने रविवार को ये जानकारी दी. इससे पहले शनिवार को 62,211 मामले सामने आए थे.

पिछले 24 घंटों में भारत में कोरोनावायरस से 1,033 मौतें हुई हैं, जिसके बाद कुल मौतों की संख्या 1,14,031 हो गई है. देश में रिकवरी दर बढ़ कर 88.03 फीसदी हो गई है, जबकि मृत्यु दर 1.53 प्रतिशत है.

अब कोरोना का खात्मा ज्यादा दूर नहीं… Pfizer की प्रोडक्शन लाइन पर पहुंची कोरोना वैक्सीन

Related Posts