पुलवामा हमला: दुनिया के सामने पाक का पर्दाफाश करने के लिए डॉजियर तैयार कर रहा भारत

नई दिल्‍ली। पाकिस्‍तान में भारत के उच्‍चायुक्‍त अजय बिसारिया ने बुधवार सुबह गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की. जाहिर तौर पर मीटिंग में पुलवामा आतंकी हमले के संदर्भ में पाकिस्‍तान के साथ रिश्‍तों को लेकर चर्चा हुई. 40 सीआरपीएफ जवानों की हत्‍या के पीछे पाकिस्‍तान की भूमिका को कैसे दुनिया के सामने रखा जाए, […]

नई दिल्‍ली। पाकिस्‍तान में भारत के उच्‍चायुक्‍त अजय बिसारिया ने बुधवार सुबह गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की. जाहिर तौर पर मीटिंग में पुलवामा आतंकी हमले के संदर्भ में पाकिस्‍तान के साथ रिश्‍तों को लेकर चर्चा हुई. 40 सीआरपीएफ जवानों की हत्‍या के पीछे पाकिस्‍तान की भूमिका को कैसे दुनिया के सामने रखा जाए, इस बारे में गृह मंत्री ने उच्‍चायुक्‍त से विस्‍तार से चर्चा की. मीटिंग के बाद उच्‍चायुक्‍त अजय बिसारिया ने कहा, ‘भारत के एम्‍बेसडर कई देशों के संपर्क में हैं. मुझे इससे ज्‍यादा कुछ नहीं कहना है.’

उच्‍चायुक्‍त अजय बिसारिया के साथ राजनाथ सिंह मीटिंग के बाद सूत्रों के हवाले से यह खबर भी सामने आ रही है कि केंद्र सरकार दुनिया के सामने पाकिस्‍तान का पर्दाफाश करने के लिए एक डॉजियर तैयार करने जा रही है. यह डॉजियर भारत की सभी एम्‍बैसी के साथ शेयर किया जाएगा, जिससे कि पाकिस्‍तान का झूठ बेनकाब किया जा सके.

पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत और पाकिस्‍तान दोनों अपने-अपने उच्‍चायुक्‍तों को बुलाया है, जिससे कि रिश्‍तों कैसे रहें, इस बारे में बात हो सके. बुधवार सुबह राजनाथ सिंह ने पाकिस्‍तान में तैनात भारत के उच्‍चायुक्‍त के अलावा वॉशिंगटन में भारत के राजदूत हर्षवर्धन श्रृंगला से भी बात की.

गृह मंत्री राजनाथ सिंह की मुलाकातें पीएम नरेंद्र मोदी के उस बयान के बाद हो रही हैं, जिसमें उन्‍होंने कहा कि अंतर्राष्‍ट्रीय स्‍तर पर पाकिस्‍तान को अलग-थलग करने के लिए भारत हरसंभव प्रयास करेगा.  अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप पहले ही पाकिस्‍तान को कड़ा मैसेज भेज चुके हैं. ट्रंप ने पाकिस्‍तान से आतंकी संगठन जैश ए मोहम्‍मद के खिलाफ एक्‍शन लेने को कहा है.

बुधवार सुबह पाकिस्‍तान के लिए न्‍यूजीलैंड से बुरी खबर आई. यहां की संसद ने पुलवामा हमले की आलोचना करने के लिए प्रस्‍ताव पारित कर दिया. वहीं, फ्रांस ने भी बड़ा कदम उठाते हुए पुलवामा हमले के बाद भारत के साथ खड़े होने की बात कही और जैश ए मोहम्‍मद के चीफ मसूद अजहर को यूएन टेरर लिस्‍ट में डालने के लिए भी आगे बढ़कर कदम उठाने की बात कही.