लखनऊ के रास्ते भारत बनेगा 5 ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था वाला देश, बोले अमित शाह

उत्तर प्रदेश सरकार की कार्ययोजना ऐसी है कि पांच साल के बाद प्रदेश इंफ्रास्ट्रक्चर के मामले में देश का नंबर एक राज्य बनेगा.

उत्तर प्रदेश में उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए रविवार को आयोजित दूसरे ग्राउंड ब्रेकिंग समारोह में देश के गृहमंत्री अमित शाह ने 65 हजार करोड़ की 290 प्रोजेक्ट का शिलान्यास किया. इस मौके पर अमित शाह ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था को 5 ट्रिलियन डॉलर पर ले जाने की बुनियाद हमारी सरकार डाल चुकी है.

शाह ने कहा कि इस कार्यक्रम से 250 परियोजनाओं का शिलान्यास और 65 हजार करोड़ रुपये का इंवेस्टमेंट होने जा रहा है. इतने कम समय पर 25 प्रतिशत से ज्यादा एमओयू को जमीन पर उतारने के लिए मैं राज्य सरकार को बधाई और शुभकामनाएं देता हूं.

अमित शाह के भाषण की मुख्य बातें

  • देश में सबसे सफल इंवेस्टर्स समिट की शुरुआत गुजरात ने की थी। लेकिन ये आश्चर्य की बात है कि उत्तर प्रदेश में भी इतने कम समय में योगी आदित्यनाथ जी ने इसे सफल बनाया है.
  • फरवरी 2018 में जब 4 लाख 68 हजार करोड़ रुपये के निवेश के लगभग 1000 एमओयू हुए थे तब भी मुझे बहुत खुशी हुई थी. आज उत्तर प्रदेश के अंदर विकास की एक नई शुरुआत हुई है, इससे देश के सबसे बड़े प्रदेश में आर्थिक गतिविधियां और रोजगार के अवसर बढ़ेंगे.
  • आज इस कार्यक्रम से 250 परियोजनाओं का शिलान्यास और 65 हजार करोड़ रुपये का इंवेस्टमेंट होने जा रहा है. इतने कम समय पर 25 प्रतिशत से ज्यादा एमओयू को जमीन पर उतारने के लिए मैं राज्य सरकार को बधाई और शुभकामनाएं देता हूं.
  • आज देश में आयकर भरने वालों की संख्या में भारी बढ़ोतरी हुई है, क्योंकि जब आय बढ़ती है और क्षमता बढ़ती है तभी तो लोग टैक्स भरते हैं. पहले 3 करोड़ 80 लाख लोग इनकम टैक्स भरते थे, लेकिन आज 6 करोड़ 70 लाख लोग इनकम टैक्स भरते हैं.
  • दुनिया का सबसे बड़ा टैक्स रिफॉर्म, जीएसटी आज हमारे देश में सुचारु रूप से चल रहा है. जब हम जीएसटी का बिल लाए तो दुनिया भर के लोग कहते थे कि भारत में ये सफल कैसे हो पाएगा. आज मोदी जी के नेतृत्व में पूरे देश में जीएसटी पूरी सफलता के साथ लागू किया जा रहा है.
  • सिर्फ 5 साल के अंदर हम विश्व बैंक की ‘ईज ऑफ़ डुइंग बिजनेस’ तालिका में 142वें स्थान से 77वें स्थान पर पहुंच गए हैं. बिजली उत्पादन में हम 99वें स्थान पर थे, लेकिन अब 26वें स्थान पर आ चुके हैं.
  • आज 17 नए मेडिकल कॉलेज उत्तर प्रदेश में बनाने का काम हमने कर दिया है और 15 का काम पाइप लाइन में है.
  • पिछली सरकारों में देश को सबसे बड़ा प्रदेश, सबसे ज्यादा आबादी वाला प्रदेश, सबसे ज्यादा संसाधनों वाला प्रदेश, सबसे ज्यादा पानी की उपलब्धता वाला प्रदेश और सबसे ज्यादा क्षमता वाला प्रदेश बुरी तहर से बिखरा पड़ा था.
  • 2017 में जनता ने भाजपा की सरकार बनाने का मौका दिया और योगी जी के मुख्यमंत्री बनने के बाद उत्तर प्रदेश में ढेर सारे परिवर्तन हुए हैं.
  • उत्तर प्रदेश के लगभग 20 जिलों में डेयरी बनाने की प्रक्रिया भी योगी जी की भाजपा सरकार ने शुरू की.
  • औद्योगिक क्षेत्र में उत्तर प्रदेश में कई सारे काम हुए हैं, लेकिन एक जिला-एक उत्पाद की योजना सबसे बेहतर योजनाओं में से एक है. यहां परंपरागत रूप से कई उद्योग पहले से विद्यमान थे. हमारी सरकार ने एक साल के अंदर 80 जिलों के 1-1 उद्योगों को सभी सुविधाएं दी.
  • उत्तर प्रदेश सरकार की कार्ययोजना ऐसी है कि पांच साल के बाद प्रदेश इंफ्रास्ट्रक्चर के मामले में देश का नंबर एक राज्य बनेगा.
  • 13वें वित्त आयोग के अंतर्गत उस समय की केंद्र सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश को अलग-अलग मदों में मात्र 3 लाख 30 हजार करोड़ रुपये की धनराशि दी गयी, लेकिन 14वें वित्त आयोग के अंतर्गत मोदी जी की सरकार ने 8 लाख 80 हजार 612 करोड़ रुपये उत्तर प्रदेश के विकास के लिए दिए.
  • एक पुरानी युक्ति है कि देश का प्रधानमंत्री बनना है तो उसका रास्ता लखनऊ से होकर जाता है. मैं आज कहना चाहता हूं कि देश को 5 ट्रिलियन डालर की अर्थव्यवस्था बनाने का रास्ता भी लखनऊ होकर ही जाता है.

और पढ़ें- कर्नाटक: फ्लोर टेस्ट से पहले विधानसभा स्पीकर ने 14 बागी विधायकों को अयोग्य करार दिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *