IND Vs AUS: क्रिकेट महाकुंभ से पहले अपनी ही सरज़मीं पर भारत की अग्निपरीक्षा आज से

इंग्लैंड और वेल्स की संयुक्त मेजबनी में 30 जून से शुरू होने वाले आईसीसी क्रिकेट विश्व कप से पहले भारत की ये आखिरी सीरीज है. भारत को इस सीरीज में दो टी-20 और पांच वनडे मैच खेलने हैं.

विशाखापट्टनम: कुछ ही महीनों के बाद क्रिकेट का महाकुंभ होने वाला है. इस महाकुंभ से पहले भारतीय टीम अपना सही संतुलन के तलाश में लगी है. भारतीय क्रिकेट टीम रविवार से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाली टी-20 सीरीज में अपने दबदबे को कायम रखना चाहेगी. इंग्लैंड और वेल्स की संयुक्त मेजबनी में 30 जून से शुरू होने वाले आईसीसी क्रिकेट विश्व कप से पहले भारत की ये आखिरी सीरीज है. भारत को इस सीरीज में दो टी-20 और पांच वनडे मैच खेलने हैं.

भारत ने पिछले महीने ही विराट कोहली की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया में ऐतिहासिक टेस्ट और वनडे सीरीज जीती है. भारतीय कोच रवि शास्त्री अब विश्व कप से पहले टीम में कुछ स्थानों को पक्का करना चाहेंगे. ऋषभ पंत और हरफनमौला खिलाड़ी विजय शंकर टीम में अपना स्थान पक्का करना चाहेंगे. पंत ने जहां, वनडे में दिनेश कार्तिक का स्थान लिया है तो वहीं शंकर ने न्यूजीलैंड दौरे पर शानदार बल्लेबाजी की है. चोटिल हार्दिक पांड्या के टीम से बाहर होने के शंकर के पास खुद को साबित करने का मौका है.

कार्तिक को अभी भी टी-20 टीम में शामिल किया गया है और यह उनके लिए आखिरी मौका हो सकता है. गेंदबाजी में तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह फिर से टीम में वापस लौट आए हैं. बुमराह टी-20 में 50 विकेट पूरा करने से मात्र दो विकेट दूर हैं. वह इस उपलब्धि को हासिल करने वाले दूसरें गेंदबाज होंगे. उनसे पहले आर अश्विन यह कारनामा कर चुके हैं.
लेग स्पिनर मयंक मारकंडे पर खास नजर होगी, जो अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण कर सकते हैं. इसके अलावा भारतीय टीम युजवेंद्र चहल और क्रुणाल पांड्या के साथ भी उतर सकती है. भारतीय कप्तान कोहली अपने पिछले साल के प्रदर्शन को यहां भी दोहराना चाहेंगे. उन्होंने पिछले तीन प्रारूपों में 38 मैच खेले थे जिसमें उन्होंने 2735 रन बनाए थे. कोहली का आस्ट्रेलिया के खिलाफ 13 टी-20 मैचों में 61 का औसत रहा है, जिसमें पांच अर्धशतक भी शामिल है.

दूसरी तरफ एरॉन फिंच की कप्तानी वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम ने तीन महीने पहले भारत के खिलाफ टी-20 सीरीज के बाद से कोई टी-20 मैच नहीं खेला है. हालांकि उसके खिलाड़ी बिग बैश लीग (बीबीएल) में खेलकर खुद को तरोतराजा रखे हुए हैं. टीम में फिंच सहित छह ऐसे खिलाड़ी हैं जो बीबीएल में खेले थे.
डी आर्शी शॉर्ट बीबीएल में प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट रहे थे. उन्होंने होबार्ट हरिकेंस की ओर से 15 मैचों में 637 रन बनाए थे. वहीं, केन रिचर्डसन लीग में सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज रहे थे. उन्होंने 24 विकेट चटकाए थे.

टीम (संभावित):
भारत: विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा , लोकेश राहुल, शिखर धवन, ऋषभ पंत, दिनेश कार्तिक, महेंद्र सिंह धोनी (विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, विजय शंकर, युजवेंद्र चहल, जसप्रीत बुमराह, उमेश यादव, सिद्धार्थ कौल, मयंक मारकंडे.

ऑस्ट्रेलिया: एरॉन फिंच (कप्तान), डी आर्की शॉर्ट, पैट कमिंस, एलेक्स कैरी, जेसन बेहरनडोर्फ, नाथन कल्टर नाइल, पीटर हैंड्सकोंब, उस्मान ख्वाजा, नाथन लॉयन, ग्लैन मैक्सवेल, झाए, रिचर्डसन, केन रिचर्डसन, मार्कस स्टोयनिस, एश्टन टर्नर, एडम जम्पा.