LAC के नजदीक हरकतों से बाज नहीं आया China, भारत ने रात में DBO के ऊपर उड़ाए Chinook हेलीकॉप्टर

चीन (China) ने पहले ही डीबीओ (DBO) में टैंक और बंदूकों की तैनाती पर आपत्ति जताई है, वहीं भारतीय सेना ने सीमापार के एरिया में चीनी सैनिकों की तैनाती और गतिविधि की ओर इशारा किया है.
Indian Air Force Flies Chinook Helicopter in night Over DBO after PLA troops movements, LAC के नजदीक हरकतों से बाज नहीं आया China, भारत ने रात में DBO के ऊपर उड़ाए Chinook हेलीकॉप्टर

चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) की LAC के दूसरी तरफ सड़क निर्माण और सैनिक गतिविधि बढ़ने के बाद भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) ने चिनूक हेलीकॉप्टर (Chinook Helicopter) की रैपिड तैनाती की गई है. इन्हें रात के वक्त DBO (Daulet Beg Oldi) के पास उड़ाया गया. ये भारतीय सीमा की आखिरी आउटपोस्ट है और काराकोरम पास (Karakoram Pass) के नज़दीक मौजूद है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

हिंदुस्तान टाइम्स की ख़बर के मुताबिक आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि अक्साई चिन के कब्जे वाले तिनवेइंडेन (TWD) में डिविजनल कमांडर लेवल (divisional commander level meeting) की बैठक में तनाव कम करने को लेकर बातचीत हुई थी. मीटिंग में भारत की तरफ से कहा गया था कि डेपसांग के मैदानी एरिया में गश्त की अनुमति दी जाए. डीबीओ को लेकर बातचीत, चुशुलु के मोल्दो में डिसएंगेजमेंट को लेकर कमाडंर लेवल की चीन के साथ हो रही बातचीत से अलग है.

इसलिए उड़ाए गए चिनूक हेलीकॉप्टर

चिनूक हेलीकॉप्टर (Chinook Helicopter) को डीबीओ के ऊपर रात में उड़ाने का फैसला भारतीय सेना की क्षमता के परीक्षण के चलते किया गया था. एक वरिष्ठ कमांडर के मुताबिक अपाचे हेलीकॉप्टर्स (Apache Helicopters) चुशूल एरिया में पेट्रोलिंग कर रहे हैं, हालांकि अमेरिका द्वारा निर्मित चिनूक हेलीकॉप्टर को रात में लड़ाई की क्षमताओं के परीक्षण के लिए उड़ाया गया.

ग्राउंड फायर के लिए बेहतरीन हैं ये हेलीकॉप्टर्स

हमने पहले T-90 टैंक और अर्टिलरी गन्स क्षेत्र में तैनात कर रखी हैं. अमेरिका द्वारा बनाया गया चिनूक हेलीकॉप्टर अफगान माउन्टेन्स में रात में अपनी अटैकिंग पावर्स को सिद्ध कर चुका है. इसका इस्तेमाल विशेष परिस्थितियों में सैन्य जवाबी कार्रवाई में हवाई बलों के द्वारा किया जाता है. ट्विट रोटर प्लेटफॉर्म में दो कैलिबर मशीन गन्स होती हैं जिन्हें चॉपर के आगे और पीछे के हिस्से में लगाया जाता है. ये ग्राउंड फायर करने में बेहतर कारगर साबित होती हैं.

चीन टैंक तैनाती पर जता चुका है आपत्ति

चीन (China) ने डीबीओ में टैंक और बंदूकों की तैनाती पर आपत्ति जताई है, वहीं भारतीय सेना ने सीमापार के एरिया में चीनी सैनिकों की तैनाती और गतिविधि की ओर इशारा किया है. दोनों ही देश एक-दूसरे की सैन्य तैनाती का मिलान कर रहे हैं. वहीं चीन सीमापार एरिया में सैनिकों की तैनाती के लिए सड़क निर्माण में तेज़ी से लगा हुआ है. एलएसी के साथ-साथ अरुणाचल प्रदेश के अक्साई चिन से लेकर किबुथू तक सीमापार चीन की सैन्य गतिविधियों में कोई कमी नहीं आई है.

शनिवार को डिविजनल कमांडर लेवल की बैठक में भारत ने यह मुद्दा उठाया था कि दोनों तरफ से अपने-अपने क्षेत्रों में गश्त की अनुमति दी जानी चाहिए.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts