जवाबी कार्रवाई में भारतीय सेना ने 15 पाकिस्तानी सैनिकों को किया ढेर, 7 PAK चौकियां तबाह

नियंत्रण रेखा पर चल रही गोलाबारी को देखते हुए काफी एहतियात बरता जा रहा है. पुंछ जिला प्रशासन ने नियंत्रण रेखा के चार किलोमीटर के दायरे में सभी शैक्षणिक संस्थानों को बंद करा दिया है.

श्रीनगर: पाकिस्तान की ओर से नियंत्रण रेखा पर सीजफायर का उल्लंघन लगातार जारी है. पिछले एक हफ्ते में इसमें काफी तेजी आ गई है. भारतीय सेना लगातार इसका मुहंतोड़ जवाब दे रही है.

भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा के पार पाकिस्तान की सात चौकियों को तबाह कर दिया है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, सेना की जवाबी कार्रवाई में 15 पाकिस्तानी सैनिकों मारे गए हैं. हालांकि पाकिस्तान का कहना है कि उसके केवल तीन सैनिक ही मारे गए हैं.

एहतियात के तौर पर, पुंछ जिला प्रशासन ने नियंत्रण रेखा के चार किलोमीटर के दायरे में सभी शैक्षणिक संस्थानों को बंद करा दिया है.

बता दें कि जम्मू-कश्मीर के राजौरी और पुंछ जिले में मंगलवार को भी एलओसी के पास भारत और पाकिस्तानी सेना के बीच भारी गोलीबारी हुई. अधिकारियों ने कहा कि पाकिस्तानी सेना ने पहले राजौरी में और फिर बाद में पुंछ जिले में संघर्ष विराम का उल्लंघन किया.

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने ये कहा
रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल देवेंद्र आनंद ने कहा कि शाम करीब पांच बजे पाकिस्तानी सेना ने पुंछ जिले के शाहपुर और करनी सेक्टरों में भारतीय चौकियों को निशाना बनाने के लिए मोर्टार और छोटे हथियारों का प्रयोग किया.

पुंछ जिले में हुई अंधाधुंध गोलाबारी 
वहीं, सोमवार को पाकिस्तान सेना द्वारा पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा के पास की गई अंधाधुंध गोलाबारी में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के एक इंस्पेक्टर, एक महिला और एक छह वर्ष की बच्ची की मौत हो गई थी और 13 अन्य घायल हो गए थे.