चीन से सटी सीमा पर निगरानी के लिए इंडियन आर्मी को मिले ‘Bharat’ ड्रोन्स

'भारत ड्रोन' को रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन की चंडीगढ़ लैब ने तैयार किया है. ड्रोन की भारत सीरीज को "विश्व के सबसे चुस्त, मुस्तैद और हल्के निगरानी ड्रोन" के रूप में लिस्ट किया जा सकता है. 
Indian Army gets Bharat drones, चीन से सटी सीमा पर निगरानी के लिए इंडियन आर्मी को मिले ‘Bharat’ ड्रोन्स

भारत और चीन के बीच चल रहे सीमा विवाद के बीच, DRDO (Defence Research and Development Organisation) ने पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा के साथ ऊंचाई वाले क्षेत्रों और पहाड़ी इलाकों में सटीक निगरानी करने के लिए भारतीय सेना (Indian Army) को ‘भारत’ नाम का ड्रोन प्रदान किया है.

देखिए NewsTop9 टीवी 9 भारतवर्ष पर रोज सुबह शाम 7 बजे

DRDO ने स्वदेश में ही बनाया ‘भारत ड्रोन’

रक्षा सूत्रों के मुताबिक, “भारतीय सेना को पूर्वी लद्दाख क्षेत्र में चल रहे विवाद में सटीक निगरानी के लिए ड्रोन की आवश्यकता है. इस आवश्यकता के लिए, डीआरडीओ ने भारत ड्रोन को प्रदान किया है.” इसे DRDO ने स्वदेश में ही विकसित किया है. रक्षा सूत्रों ने एएनआई को बताया कि ‘भारत ड्रोन’ को रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन की चंडीगढ़ लैब ने तैयार किया है. ड्रोन की भारत सीरीज को “विश्व के सबसे चुस्त, मुस्तैद और हल्के निगरानी ड्रोन” के रूप में लिस्ट किया जा सकता है.

आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस से लैस है ड्रोन

DRDO के सूत्रों ने कहा, “यह छोटा मगर पावरफुल ड्रोन है जो कि बड़ी सटीकता के साथ किसी भी स्थान पर ऑटोनॉमस तरीके से काम करता है. अडवांस रिलीज टेक्नॉलजी के साथ यूनिबॉडी बायोमिमेटिक डिज़ाइन निगरानी मिशनों के लिए एक बेहतरीन विकल्प है”. ये ड्रोन दोस्तों और दुश्मनों का पता लगाने के लिए आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस से लैस है और तदनुसार कार्रवाई कर सकता है.

भारत ड्रोन अत्यधिक ठंडे मौसम और रात के घने अंधेरे में भी निगरानी करने में सक्षम है. इसे मौसम की कठिन परिस्थितियों के हिसाब से तैयार किया जा रहा है. ड्रोन के जरिए मिशन के रियल टाइम वीडियो भी देखे जा सकते हैं.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

Related Posts